पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!

पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!
पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!

पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!

देश भर के किसानों के लिए केंद्र सरकार ने कई तरह की योजनाएं बनाई हैं। उन में से एक योजना का नाम किसान सम्मान निधि योजना है। इस योजना के अंतर्गत देश के करोड़ों किसानों को हर साल दो-दो हजार रूपए के तीन किस्तों में कूल 6000 रूपए की राशि प्रदान की जाती है। पीएम किसान योजना के तहत 10 किस्तों का पैसा केंद्र सरकार की ओर से अब तक ट्रान्सफर किया जा चुका है। अब किसान 11वीं किस्त के इंतजार में हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस माह यानी मई में पीएम किसान योजना की धन राशि किसानों के खाते में भेजी जा सकती है। उम्मीद जताई जा रही थी कि किस्त का पैसा अप्रैल माह तक आ जाएगा। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, अब पैसा मई माह में किसानों के खाते में भेजा जा सकता है।

पहला किस्त 1 अप्रैल से 31 जुलाई के बीच

दूसरा किस्त 1 अगस्त से 30 नवंबर के बीच

तीसरा किस्त 1 दिसंबर से 31 मार्च के बीच भेजा गया था।

ई-केवाईसी की अनिवार्यता पीएम किसान योजना का लाभ उठाने के लिए आवश्यक है। जिस किसी ने ई-केवाईसी नहीं करवाई है वह योजना के पैसे से वंचित रह सकता है। सरकार ने भी ई-केवाईसी की आखिरी तारीख को बढ़ा कर अब 31 मई तक कर दिया है।

किसान सम्मान निधि योजना की 10 वीं किस्त

केंद्र सरकार द्वारा 1 जनवरी, 2022 को किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत 10वीं किस्त की राशि किसानों को दी जा चुकी है। इस राशि को प्रधानमंत्री के द्वारा विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जारी किया गया है। 10वीं किस्त के अंतर्गत लगभग 10.09 करोड़ किसान लाभान्वित हुए हैं। जिन किसानों के खाते में 10वीं किस्त की राशि नहीं आई है उन्हें जल्द ही यह राशि प्रदान की जाएगी। 20,946 करोड़ रुपए 10.09 करोड़ किसानों को ट्रान्सफर की गई है। सरकार की ओर से भविष्य में निवेश के लिए 14 करोड़ रुपए इक्विटी ग्रैंड प्रदान की जाएगी। इस से लगभग 1.25 लाख किसानों को लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2022 का उद्देश्य और उसमें बदलाव

जैसा की हम सब जानते हैं भारत एक कृषि प्रधान देश है और लगभग हमारे देश के 75% लोग खेती करते हैं। देश के सभी किसान आर्थिक रूप से खेती पर ही निर्भर है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने खेती करने वाले किसानों को आर्थिक रूप से सहायता करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का शुभारंभ किया। इस योजना का मुख्य उद्देश्य खेती करने वाले किसानों को बेहतर आजीविका प्रदान करना और किसानों को आत्मनिर्भर तथा सशक्त बनाना है। योजना की शुरुआत में केवल उन किसानों को ही लाभ मिल रहा था जिनके पास दो हेक्टेयर तक जमीन है।

लेकिन बाद में इस योजना में सभी वर्ग के किसानों को शामिल कर लिया गया। इस योजना के तहत कूल 12 करोड़ किसानों को लाभ मिलता है जिसका कुल सालाना बजट ₹75,000 करोड़ है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है। यदि आपके पास आधार कार्ड नहीं है तो आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं। जब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को शुरू किया गया था तब इस योजना का लाभ केवल वही किसान ले पा रहे थे जिनके पास दो हेक्टेयर या पांच एकड़ खेती योग्य जमीन है। अब सरकार द्वारा इस सीमा को समाप्त कर दिया गया है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!
नैशनल लोक अदालत आयोजित

अब आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अपने आवेदन का स्टेटस स्वयं जान सकते हैं। जिसके लिए आपके पास मोबाइल नंबर, आधार नंबर या बैंक खाता होना चाहिए। इसके मदद से आप ऑनलाइन अपना स्टेटस देख सकते हैं। जब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का आरंभ हुआ था तो इस योजना में पंजीकरण करवाने के लिए आवेदकों को लेखपाल, कानूनों और कृषि अधिकारियों के चक्कर काटने पड़ते थे। अब सरकार ने इस बाध्यता को समाप्त कर किसानों को घर बैठे रजिस्ट्रेशन करने का अवसर प्रदान किया है। जिन किसानों ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पंजीकरण करवाया है उन्हें किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए किसी प्रकार के दस्तावेज देने की आवश्यकता नहीं है।

किसान क्रेडिट कार्ड से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। इस योजना के तहत होने वाले खर्च को केंद्र सरकार उठाएगी। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2022 से जुड़ी सभी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट http://pmkisan. gov. in/ से प्राप्त की जा सकती है। इस पोर्टल की नई सूची के तहत ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों के लाभार्थी के नाम को जारी करने की घोषणा की गई है। इस सूची में शामिल होने वाले लाभार्थियों को अगले पांच साल तक 6,000 रूपए प्रदान किये जाएंगे।

कैसे जुड़े इस योजना से?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जुड़ने के लिए सबसे पहले आवेदक को आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जहाँ होम पेज जा कर किसान कॉर्नर के अंतर्गत अपडेशन इन सेल्फ रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा। जैसे ही इस लिंक पर क्लिक करेंगे सामने एक पेज खुलेगा जिसमें आधार नंबर और ई-मेल भरना होगा और सेव के बटन पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार सेल्फ रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के फॉर्म को डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर होम पेज खोलना होगा।

होम पेज पर किसान कॉर्नर के अंतर्गत डाउनलोड के.सी.सी फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद योजना का फॉर्म डाउनलोड हो जाएगा। और इस योजना के मोबाइल एप को डाउनलोड करने के लिए किसान कॉर्नर पर ही पीएम किसान मोबाइल एप का विकल्प मिल जाएगा जहाँ से एप डाउनलोड हो जाएगा। इस योजना के अतिरिक्त केंद्र सरकार जल्द ही पुरे देश में एक नए सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना देश के छोटे व सीमांत किसानों के लिए आरंभ करने जा रही है। इस योजना को सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान वृद्धजन पेंशन योजना के नाम से संबोधित किया जाएगा।

योजना के अंतर्गत सभी लाभार्थियों को 60 साल की उम्र होने के बाद पेंशन प्रदान की जाएगी। आगामी 3 सालों के अंदर 5 करोड़ लाभार्थियों को प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के अंतर्गत सम्मिलित करने का लक्ष्य है। इस योजना को सरकार द्वारा प्रधानमंत्री श्रम योगी मनधन योजना व प्रधानमंत्री कर्म योगी मनधन योजना के तर्ज पर आरंभ किया है। योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन जन सेवा केंद्र के माध्यम से आमंत्रित किए जाएंगे तथा लाभार्थियों को सम्मिलित किया जाएगा।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!
केंद्र सरकार की नई रोशनी योजना क्या है? देश की महिलाएं योजना के तहत ट्रेनिंग से बन सकेंगी आत्मनिर्भर !
पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!
क्या है प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना? कब शुरू हुआ, ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करें?
पीएम किसान सम्मान निधि योजना पास या फ़ैल? जानिए कैसे करें आवेदन!
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 22000 लोगों के करवाया रजिस्ट्रेशन, जानिए योजना की पूरी जानकारी !

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com