कंगना रनौत स्टारर 'थलाइवी' Full HD मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं आप

कंगना रनौत की बहु प्रतीक्षित फिल्म 'थलाइवी' तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री स्व. जे. जयललिता के जीवन और उनके फ़िल्मी करियर के बाद राजनीति में शक्तिशाली उदय कहानी बताती है।
कंगना रनौत स्टारर 'थलाइवी' Full HD मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं आप

कंगना रनौत की मोस्ट अवेटेड फिल्म 'थलाइवी' हाल ही में रिलीज हुई थी। यह फिल्म तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के जीवन पर आधारित एक बॉयोपिक ड्रामा है। हालांकि, फैंस के लिए एक दुखद खबर है कि ए.एल. विजय द्वारा निर्देशित 'थलाइवी', तमिलरॉकर्स, टेलीग्राम, मूवीरुलज़ जैसी अन्य पायरेसी साइटों का नया टारगेट बन गई है।

कंगना की मास्टर पीस 'थलाइवी' को कई टोरेंट साइट्स पर फुल एचडी क्वालिटी में मुफ्त डाउनलोड के लिए लीक किया जा चुका है। इसके लीक होने की कहानी मेकर्स के लिए एक बड़ा झटका होना तय है क्योंकि इससे उनकी कमाई पर भारी असर पड़ता है।

बता दें, 'थलाइवी' को सिनेमाघरों और अमेज़न प्राइम वीडियो और नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ किया गया था। हालांकि, कुछ ख़बरें आईं थी कि कुछ थिएटर्स ने कंगना फिल्म लेने से मना कर दिया था, लेकिन फिर भी फिल्म ज़बरदस्त तरीके से रिलीज़ हुई।

क्या है कंगना रनौत की 'थलाइवी' की कहानी?

'थलाइवी' तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता और उनके एक महान शक्ति के रूप में उदय की कहानी बताती है। जयललिता ने भारत के तमिलनाडु राज्य की मुख्यमंत्री बनने के साथ लोगों के दिलों पर राज किया और लोगों का दिल जीता। हिंदी के अलावा 'थलाइवी' तमिल और तेलुगू भाषाओं में भी रिलीज हुई है। फिल्म का निर्देशन ए.एल. विजय ने किया है और इसे केवी विजयेंद्र प्रसाद, मदन कार्की और रजत अरोड़ा ने लिखा है। फिल्म में अरविंद स्वामी, नासर और भाग्यश्री भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

यह पहली बार नहीं है, जब पायरेसी वेबसाइट ने किसी फिल्म या शो को लीक किया हो। इससे पहले, शेरशाह, द फैमिली मैन 2, सरदार का ग्रैंडसन, मुंबई सागा, एके बनाम एके, लक्ष्मी, आश्रम 2, लूडो, छलांग, डार्क, रसभरी, बुलबुल, पाताल लोक, आर्या, पेंगुइन, द रायकर केस जैसी फिल्में और शो , हंड्रेड, एक्सट्रैक्शन, हस्मुक और अन्य कई शोज फ़िल्में पायरेसी साइट्स का निशाना बन चुके हैं।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com