कुछ ही साल पहले स्टार्टअप किया था; आज आनंद महिंद्रा, राकेश झुनझुनवाला से भी अमीर है ये शख्स

कुछ ही साल पहले स्टार्टअप किया था; आज आनंद महिंद्रा, राकेश झुनझुनवाला से भी अमीर है ये शख्स

देश में लॉकडाउन के बाद सबसे अधिक फायदा कमाने वालों की लिस्ट बनाई जाये तो इनका नाम टॉप पर होगा। IIFL वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट 2021 के अनुसार, भारत में 1,000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति वाले 1007 व्यक्ति हैं और उन 1007 व्यक्तियों में इनका 67वां स्थान है। कौन हैं वो? जानने के लिए आगे बढ़िए...

भारत के सबसे मूल्यवान स्टार्टअप Byju’s के संस्थापक बायजू रवींद्रन अब महिंद्रा एंड महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा और भारत के स्टॉक मार्केट किंग राकेश झुनझुनवाला से अधिक अमीर हो चुके हैं। IIFL वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट 2021 (IIFL Wealth Hurun India Rich List 2021) के अनुसार, बायजू रवींद्रन और परिवार की संपत्ति 22,300 करोड़ रुपये की हो चुकी है, जिससे वह भारत के 67 वें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। इस साल परिवार की संपत्ति में 19% की वृद्धि हुई है। 2017 के बाद से, रवींद्रन 504 रैंक चढ़ गए है। सूची में इतनी लंबी उछाल किसी ने भी नहीं लगाई है।

सूची के अनुसार, राकेश झुनझुनवाला और परिवार की संपत्ति 22,300 करोड़ रुपये, आनंद महिंद्रा एंड परिवार की 22,000 करोड़ रुपये और नंदन नीलेकणी और परिवार की संपत्ति 20,900 करोड़ रुपये है। इन सभी धनी परिवारों ने साल के दौरान परसेंटेज के लिहाज से तुलनात्मक रूप से बड़ी संपत्ति वृद्धि की है।

Byju’s, आज जिसकी कीमत 16.5 बिलियन डॉलर है, महामारी के बाद से सपनों की दौड़ में शामिल है। इसने अपने कई कंपीटीटर्स को खरीद लिया है और देश का सबसे मूल्यवान स्टार्टअप बन गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी करीब 21 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर 1-1.5 अरब डॉलर जुटाने के लिए कई निवेशकों से बातचीत कर रही है। उसी समय, कुछ बैंकर आईपीओ के लिए कंपनी का पीछा कर रहे हैं, जिसका अनुमानित मूल्यांकन 50 बिलियन डॉलर तक है!

यदि बायजू इस तरह के मूल्यांकन को प्राप्त करने में सफल होता है, तो बायजू रवींद्रन परिवार की संपत्ति मौजूदा स्तरों से लगभग तीन गुना हो जाएगी।

अप्रैल 2021 में, इसने 7,300 करोड़ रुपये के नकद और स्टॉक सौदे में आकाश एजुकेशनल सर्विसेज का अधिग्रहण किया था। इसके अतिरिक्त, इसने 4,500 करोड़ रुपये में सिंगापुर स्थित ग्रेट लर्निंग और 3,700 करोड़ रुपये में कैलिफोर्निया स्थित किड्स डिजिटल रीडिंग प्लेटफॉर्म को अधिग्रहीत किया था। इसके अलावा, इसने उद्योग में अपनी उपस्थिति को मजबूत करते हुए कई छोटे स्टार्टअप का भी अधिग्रहण कर लिया है।

Byju’ ने इस साल अधिग्रहण (अन्य छोटी बड़ी प्रतिद्वंदी कंपनियों की खरीददारी) पर 15,000 करोड़ से अधिक रुपये खर्च किए हैं।

IIFL वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट 2021 के अनुसार, भारत में 1,000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति वाले 1007 व्यक्ति हैं। यह संख्या पिछले वर्ष की तुलना में 179 अधिक है। मतलब 179 नए लोग 1000 करोड़ से अधिक संपत्ति वाली लीग में शामिल हुए हैं।

विदित हो, Byju's एक भारतीय बहुराष्ट्रीय शैक्षिक प्रौद्योगिकी कंपनी है, जिसका मुख्यालय बैंगलोर में है। इसकी स्थापना 2011 में बायजू रवींद्रन और दिव्या गोकुलनाथ ने की थी। यह ऑनलाइन लर्निंग के लिए सबसे अच्छा प्लेटफॉर्म माना जाता है। कोरोना महामारी के बाद जब देश में लॉकडाउन लगा था, सभी स्कूल-कॉलेजों, कोचिंग इंस्टीटूट्स को लंबे समय के लिए बंद कर दिया गया था। इसी बेहतरीन मौके का फायदा उठाते हुए Byju's ने घर-घर तक अपनी पहुंच बनाई।

Related Stories

No stories found.