इंटरनेशनल छात्रों के लिए न्यूजीलैंड की पढ़ाई सबसे बेहतर!

इंटरनेशनल छात्रों के लिए न्यूजीलैंड की पढ़ाई सबसे बेहतर!
इंटरनेशनल-छात्रों-के-लिए-न्यूजीलैंड-की-पढ़ाई-सबसे-बेहतर!

इंटरनेशनल छात्रों के लिए न्यूजीलैंड की पढ़ाई सबसे बेहतर!

Ashish Urmaliya | The CEO Magazine

भारत में विदेशी शिक्षा का ट्रेंड वर्ष दर वर्ष बढ़ता ही जा रहा है। यह सिलसिला 1889 से शुरू हुआ था, जब भारत की पहली महिला वकील 'कार्नेलिया सोराबजी' वकालत की शिक्षा प्राप्त करने 'ऑक्सफ़ोर्ड' लंदन गई थीं। बता दूं, कार्नेलिया सोराबजी पहली भारतीय महिला वकील ही नहीं, बल्कि विदेश में पढ़ाई करने वाली पहली भारतीय भी थीं। खैर, यह बात तो 'जी.के.' बढ़ाने वाली थी। असल बात यह है कि,18 जुलाई 2018 में विदेश मंत्रालय द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक, 7 लाख 50 हजार से भी ज्यादा भारतीय छात्र विदेशों में पढाई कर रहे हैं। ये देखो, फिर से 'जी.के.' वाली बात निकल गई।

यूएस, कनाडा, यूके, ऑस्ट्रेलिया, बहरीन और चीन के साथ ही साथ पढ़ाई के लिए दुनियाभर के छात्रों का रुझान न्यूजीलैंड की ओर भी बढ़ता जा रहा है। आखिर क्यों दुनियाभर के छात्र न्यूजीलैंड में शिक्षा प्राप्त करने के लिए आकर्षित हो रहे हैं? यह जानेंगे, इसके साथ ही यह भी जानेंगे, कि वहां के विश्व प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान कौन-कौन से हैं, जहां आप भी आसानी से दाखिला ले सकते हैं।

पहले न्यूजीलैंड के टॉप शिक्षण संस्थानों की बात कर लेते हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ ओटागो (University of Otago):-

यह न्यूजीलैंड की सबसे पुरानी यूनिवर्सिटी है, जो यहां के खूबसूरत शहर डुनेडिन, साउथ आइसलैंड में स्थित है। अगर आप प्राकृतिक वातावरण का आनंद उठाते हुए पढ़ाई करना चाहते हैं, तो इस जगह से बेहतर आपके लिए और कुछ नहीं। यह यूनिवर्सिटी खासतौर पर प्री मेडिकल (हेल्थ साइंसेज), ह्यूमैनिटीज, साइंस और बिजनस जैसे विषयों के लिए जानी जाती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ ऑकलैंड (University of Auckland):-

यह यूनिवर्सिटी न्यूजीलैंड के ऑकलैंड शहर में स्थित है। इस शहर की पूर्वी और पश्चिमी दिशा में समुद्री तट का होना काफी मनोरम दृश्य पैदा करता है।

यूनिवर्सिटी शहर के बीचों बीच ऐसी जगह पर स्थित है जहां पर खाने-पीने और शॉपिंग की अतुलनीय सुविधाएं हैं। इसका नाम इंजिनीरिंग, साइकोलॉजी, एकाउंटिंग, फाइनेंस जैसे विषयों की पढ़ाई के लिए दुनियाभर में प्रचलित है। यह आपको अपने पसंदीदा विषय पर मनचाही रिसर्च करने का मौका भी प्रदान करती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैंटरबरी (University of Canterbury):-

यह यूनिवर्सिटी उसी शहर में उपस्थित है जहां अभी कुछ ही दिन पहले दो मस्जिदों में हमला हुआ था, 51 लोग मारे गए थे और कई लोग घायल हुए थे। 2011 में यह शहर एक भयावह भूकंप का भी सामना कर चुका है, इस भूकंप ने शहर को पूरी तरह से तबाह कर दिया था। लेकिन उसके बाद यह शहर तेजी से उबरा और पुनः अपना वजूद स्थापित किया। यह शहर अपनी विश्वस्तरीय पढ़ाई के अलावा अपनी खूबसूरती के लिए भी बहुत प्रचलित है। यहां की एवॉन नदी के किनारे पर बाइक ड्राइविंग करने का अपना अलग ही मजा होता है। कैंटरबरी यूनिवर्सिटी के 70 से अधिक शैक्षिणक प्रोग्रामों में 12 हजार से अधिक छात्र शिक्षा ग्रहण करते हैं।

विक्टोरिया यूनिवर्सिटी ऑफ वेलिंगटन (Victoria University of Wellington):-

यह यूनिवर्सिटी मुख्य रूप से बिज़नेस की पढ़ाई के लिए प्रचलित है। इसके अलावा अन्य यूनिवर्सिटियों की ही तरह यहां आप कई अन्य विषयों में भी अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। यूनिवर्सिटी देश की राजधानी वेलिंगटन में स्थित है। यह शहर ही ऐसा है जहां आने के बाद आप अपनी डिक्शनरी से बोरिंग नामक शब्द डिलीट कर देंगे। उद्योग जगत में भविष्य बनाने के लिए यहां आएं।

ऑकलैंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी (Auckland University of Technology):- यह यूनिवर्सिटी 2001 से प्रक्रिया में आई, इससे पहले यह कॉलेज हुआ करती थी। टेक्नोलॉजी से सम्बंधित किसी भी विषय की पढ़ाई करनी है, तो यह न्यूजीलैंड की बेस्ट यूनिवर्सिटी, न्यूजीलैंड ही क्यों, टेक्नोलॉजी की बेस्ट पढ़ाई के लिए यह दुनियाभर में फेमस है। इसके अलावा यहां आप आर्ट्स, हॉस्पिटैलिटी और टूरिज्म मैनेजमेंट के कोर्सेस कर सकते हैं।

इन यूनिवर्सिटीज के अलावा भी न्यूजीलैंड में ऐसी कई शिक्षण संस्थान हैं जो आपको शिक्षा का वर्ल्ड क्लास अनुभव देते हैं।

छात्र न्यूज़ीलैंड की ओर आकर्षित हो रहे हैं, इसके पीछे के और क्या कारण हैं?

न्यूजीलैंड, कम खर्च पर अच्छी शिक्षा प्राप्त करने की चाह रखने वाले विद्यार्थियों की पहली पसंद बनता जा रहा है।

  1. रिसर्च और स्टडी के अनगिनत मौके- न्यूज़ीलैंड के आठ विश्वप्रसिद्द संस्थान, यहां के उत्तरी और दक्षिणी द्वीपों पर स्थित हैं। इन सभी संस्थानों में विद्यार्थियों को रिसर्च और स्टडी के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। आर्ट्स, बिज़नेस और साइंस की पढ़ाई तो हर विश्वविद्यालय करता ही है लेकिन यहां के हर कॉलेज के पास कुछ खास तरह के कोर्स होते हैं, जिनके चलते विद्यार्थियों का उज्जवल भविष्य सुनिश्चित हो जाता है।
  1. एडजस्टेबल एजुकेशन सिस्टम- न्यूजीलैंड लगभग पूरी तरह से ब्रिटिश शिक्षा मॉडल को फॉलो करता है, इसीलिए यहां का यूनिवर्सिटी सिस्टम रिसर्च आधारित होता है। इन दोनों जगहों में सिर्फ पढ़ाई के तरीकों ही नहीं, बल्कि और भी कई अन्य चीजों में समानता पाई जाती है। एक बात और, भारत में भी ब्रिटिश शिक्षा मॉडल को ही फॉलो किया जाता है, इसलिए भारतीय छात्रों को यहां एडजस्ट करने में किसी भी दिक्क्त का सामना नहीं करना पड़ता।
  1. किफायती रहन-सहन- अन्य देशों की तुलना में न्यूजीलैंड का रहन सहन काफी सस्ता है। यहां का खाना काफी सस्ते दामों में मिल जाता है, इसके साथ ही यहां रहने के लिए कई सारे सस्ते और अच्छे विकल्प उपलब्ध हैं। यहां का पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी काफी सस्ता है, बहुत ही कम पैसों में आप खुल कर घूम पाते हैं, यहां की नदियों, झीलों, जंगलों और बीचों का भरपूर आनंद उठा पाते हैं।
  1. न्यूजीलैंड खूबसूरत देश- न्यूजीलैंड अपनी प्राकृतिक खूबसूरती और एडवेंचर की परिपूर्णता के लिए दुनियाभर में चर्चित देश है। यहां उत्तरी और दक्षिणी द्वीपों पर स्थित अधिकतर टॉप विश्वविद्यालयों से ट्रांसपोर्टेशन व्यवस्था वेहद सुगम है। वहां एडवेंचर स्पोर्ट व हाईकिंग जैसे कई सारे विकल्प भी उपलब्ध हैं।

सबसे अहम बात, यह देश विदेशी छात्रों का बाहें खोलकर स्वागत करता है!

न्यूजीलैंड देश, यहां के नागरिक, सोसाइटी, लगभग सभी लोग विदेशी छात्रों का गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। और यही वहां की सबसे बड़ी खासियत है। वहां की सरकार और लोगों का मानना है कि, बाहरी छात्रों के आने से सांस्कृतिक विविधता पैदा होती है और साथ ही साथ अर्थव्यवस्था को भी अच्छा खासा लाभ होता है। जब वहां के लोगों की बातचीत किसी भिन्न संस्कृति के व्यक्ति से होती है, तब वे बहुत दिलचस्पी दिखाते हैं। वहां के विश्वविद्यालयों में यूरोप, यूके, दक्षिण पूर्व एशिया, एशिया समेत दुनिया के हर कौने से छात्र मिल जायेंगे।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.