PK का ऑडियो क्लिप वायरल होते ही Clubhouse ऐप चर्चा में आया था, एप की खासियत क्या है? जानिए...

PK का ऑडियो क्लिप वायरल होते ही Clubhouse ऐप चर्चा में आया था, एप की खासियत क्या है? जानिए...

राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर के एक कथित ऑडियो क्लिप के वायरल होने के चलते वीडियो चैटिंग ऐप Clubhouse भारत में चर्चा का विषय बना हुआ है। तो आइए इस आर्टिकल के ज़रिए जानते हैं Clubhouse चैट ऐप के बारे में, आखिर ये काम कैसे करता है...

पश्चिम बंगाल का विधानसभा चुनाव तो मानो कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक स्टेज पर पहुंच चुका है क्योंकि इस चुनाव में जानें भी बराबर मात्रा में जा रही हैं। बंगाल चुनाव को ट्रिपल म्युटेंट वायरस कहें तो कोई गुरेज नहीं होगा। हर रोज की मारधाड़ की घटनाओं से परे बंगाल चुनाव ने एक नया मोड़ लिया है। दरअसल, विधानसभा चुनाव के लिए जारी मतदान के बीच सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर का एक कथित ऑडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। भारतीय जनता पार्टी द्वारा इस ऑडियो क्लिप को ट्विटर पर पोस्ट भी किया गया है। इस ऑडियो क्लिप में कथित तौर पर प्रशांत किशोर कह रहे हैं कि बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी ज्यादा पॉपुलर हैं। इसके साथ ही सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लिए राज्य में एंटी इनकंबेंसी (विरोधी लहर) देखी जा रही है। फिर क्या था, यह क्लिप किसी जंगल में आग की तरह फैल गई। हम, प्रतिनिधि मंथन(Pratinidhi Manthan) इस ऑडियो क्लिप की सत्यता की पुष्टी फिलहाल नहीं कर सकते। हालांकि, प्रशांत किशोर ने यह क्लिप वायरल होने का बाद अपनी प्रतिक्रिया दी और तंजिया लहजे में बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि ' मुझे ख़ुशी है कि बीजेपी के लोग मेरी Clubhouse Chat अपने खुद के नेताओं से ज्यादा सीरियसली ले रहे हैं।' बीजेपी को पूरी चैट लीक करनी चाहिए उसका मात्र एक हिस्सा नहीं तभी सच सामने आएगा। इसके बाद से ही ओवैसी समेत कई दिग्गत नेताओं की प्रतिक्रियाएं आनी जारी हैं।

आपको बता दें, प्रशांत किशोर ने अपने राजनीतिक रणनीतिकार वाले करियर की शुरुआत मोदी जी के साथ ही शुरू की थी, जब मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे। मोदी जी के 2014 वाले चुनाव कैंपेन में कई बड़े और अहम फैसले प्रशांत किशोर के ही हुआ करते थे। फिर इनके बीच कुछ खटपट हुई और प्रशांत किशोर ने बीजेपी को अलविदा कह दिया। ये वही प्रशांत किशोर हैं, जिन्होंने आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी की एकतरफा सरकार बनवाने में पूरी मदद की। ये वही प्रशांत किशोर हैं, जिन्हें पंजाब सरकार ने हाल ही में राज्य मंत्री का दर्जा दिया है। ये वही प्रशांत किशोर हैं जिन्हें बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने अपनी पार्टी का उपाध्यक्ष बना दिया था। प्रशांत किशोर के बारे में डिटेल में जाऊंगा तो आर्टिकल बहुत लंबा हो जाएगा, इसलिए मुख्य मुद्दे पर आते हैं।

हाल ही में प्रशांत किशोर के इस कथित ऑडियो क्लिप के वायरल होनेके साथ ही एक वीडियो चैटिंग ऐप Clubhouse App भारत में चर्चा का विषय बन गया है। हो सकता है, इंस्टाग्राम, वॉट्सऐप, फेसबुक मैसेंजर, गूगल मीट ऐप पर चैटिंग करने वालों के लिए ये Clubhouse App नया-नया सा हो। इसलिए आज हम आपको इस ऐप की खूबियों से रूबरू कराते हैं, इस ऐप का इस्तेमाल कैसे करना है ये भी हम आपको बताएंगे।

Clubhouse Chat ऐप है क्या?

दरअसल, क्लबहाउस ऑडियो-चैट पर बेस्ड एक सोशल नेटवर्किंग ऐप है जिस पर यूज़र्स अलग-अलग तरह के विषयों पर लोगों के बीच बातचीत, साक्षात्कार व अन्य चर्चाएं कर व सुन सकते हैं। यह एप काफी हद तक पॉडकास्ट में ट्यूनिंग की तरह है। सोशल नेटवर्किंग ऐप Clubhouse जो ऑडियो-चैट पर आधारित है, मार्च 2020 के बाद से उपलब्ध है।

यह एक तरह का इनवाइट-ऐप है। मतलब जिन लोगों के पास भी इस ऐप का एक्सेस है, वे अलग-अलग विषयों पर बातचीत, साक्षात्कार व चर्चाएं सुन सकते हैं। Clubhouse को आप ऐप व प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप के लिए आपको पहले एक अकाउंट बनाना होता है फिर किसी मौजूदा मेंबर से इसमें शामिल होने के लिए इनवाइट मंगाना होता है, इनवाइट मिलते ही आप ज्वाइन हो जाते हैं।

Clubhouse ऑडियो चैट ऐप काम कैसे करती है?

ज्‍वाइन होने के बाद आपको अपनी रूचि का विषय चुनना होगा। इंट्रेस्ट्स में बुक्‍स, टेक, हेल्‍थ, बिजनेस जैसे कई विषय शामिल हैं। यह ऐप आपकी रूचि के आधार पर आपको चैट रूम रिकमेंड कर देता है।

जब आप चैट रूम में एंटर करेंगे तो आपको ऐसा लगेगा जैसे कि आप किसी कॉन्फ्रेंस कॉल का हिस्सा बन गए हों। फ़र्क सिर्फ इतना है कि यहां पर बहुत कम लोग बात कर रहे होते हैं, जबकि ज्‍यादा से ज्‍यादा लोग सुन रहे होते हैं। संबंधित विषय पर बातचीत खत्म होते ही कन्वर्सेशन रूम बंद कर दिया जाता है। अब यहां पर सवाल ये खड़ा होता है कि रूम में एंटर करने के लिए आपको इनवाइट कैसे मिलेगा?

तो इसके लिए कोई मौजूदा क्लब हाउस यूजर्स आपको अकाउंट सेट-अप इन्विटेशन भेजता है। हालांकि क्लब हाउस का उपयोग करने वाले ऐसे किसी को भी आमंत्रित नहीं कर सकते हैं। जब आप अपना नया अकाउंट बनाते हैं तो शुरुआत में आपके पास केवल दो इनवाइट्स उपलब्ध होते हैं जिनका आपको सोच-समझ कर इस्तेमाल करना होता है। क्लबहाउस ऐप के रचनाकार रोहन सेठ और पॉल डेविडसन इसी साल 2021 में ऐप के बीटा स्टेज को पूरा कर लेना चाहते हैं ताकि जल्‍द से जल्द पूरी दुनिया को यह ख़ास ऐप उपलब्‍ध कराया जा सके। इस एप के ज़रिए आप किसी भी तरह का मनवांछित ज्ञान अर्जित कर सकते हैं।

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com