स्क्रीन मिरर टेक्नॉलोजी: फोन की स्क्रीन को बनाएं बड़ी टीवी की स्क्रीन, आइए जानते हैं

स्क्रीन मिरर टेक्नॉलोजी: फोन की स्क्रीन को बनाएं बड़ी टीवी की स्क्रीन, आइए जानते हैं

Ashish Urmaliya | Pratinidhi Manthan

फिलहाल तो आईपीएल क्रेज चल रहा है, तो इसी का उदाहरण लेते हैं. अक्सर ऐसा होता है कि आपकी टीवी पर वो चैनल नहीं आता जिसमे आपकी पसंदीदा चीज़ दिखाई जा रही होती है या फिर आपके यहां कोई केबल या डिस्क कनेक्शन नहीं होता. ऐसे में मजबूरन आपको अपने फ़ोन पर ही उन चीज़ों को देखना पड़ता है. लेकिन अब इस समस्या का समाधान है अब अगर आप आईपीएल का मज़ा बड़ी टीवी स्क्रीन पर लेना चाहते हैं या फिर कोई फिल्म देखना चाहते हैं तो आपको बस अपने स्मॉर्टफोन की स्क्रीन को टीवी से कनेक्ट करना होगा. यह सब आप स्क्रीन मॉनिटरिंग टेक्नोलॉजी की मदद से कर पाएंगे. इस ख़ास टेक्नोलॉजी की मदद से आप अपने फ़ोन पर देखे जाने वाला सारा कंटेंट टीवी पर देख सकते हैं.  

इसके लिए आपको ज़रुरत है तो एक स्मार्ट टीवी और स्मार्टफोन की. और तो और आप टेबलेट को भी इस टेक्नोलॉजी के ज़रिये टीवी से कनेक्ट कर सकते हैं. स्क्रीन मिरर एक लेटेस्ट टेक्नोलॉजी है जो आपके फ़ोन या टेबलेट की स्क्रीन को टीवी के बड़े स्क्रीन पर दिखा सकती है.

स्क्रीन मिरर टेक्नोलॉजी के बंपर उपयोग-

मान लीजिए आप अपने बच्चों को पढ़ा रहे हैं, अगर आपके बच्चे होंगे तो स्वाभाविक रूप से पढ़ाते ही होंगे। और इस कोरोना काल में तो गारंटीड पढ़ाते होंगे. बच्चों को पढ़ाते वक्त आप उनको इंटरनेट पर कुछ दिखाना चाहते हैं, कई बार स्क्रीन पर वह चीज़ दिखाना मुश्किल होता है साथ ही बच्चों की आंखों पर भी फोन स्क्रीन का बुरा असर पड़ता है. ऐसे वक्त में स्क्रीन मिरर टेक्नोलॉजी काम आती है जिसमें आप फोन की वीडियो फोटो या प्रेजेंटेशन को बड़ी टीवी स्क्रीन पर दिखा सकते हैं. आज कल बहुत बार यह टेक्नोलॉजी ऑफिस मीटिंग में भी काम आने लगी है. बता दें, यह एक वायरलेस तकनीक है जो एंड्रॉइड फोन, आईफोन या टैबलेट पर चलने वाले मीडिया को बड़ी स्क्रिन जैसे टीवी या प्रोजेक्टर पर स्विच करने की सुविधा प्रदान करती है.

स्क्रीन मिररिंग टेक्नोलॉजी की परिभाषा-

स्क्रीन मिररिंग आपके स्मार्टफोन, टैबलेट या कंप्यूटर पर डिस्प्ले हो रहे कंटेंट को केबल या वायरलेस कनेक्‍शन के माध्‍यम से टीवी या प्रोजेक्टर पर भेजती है और इसकी मदद से इंटरनेट या दूसरे ऐप जैसे हॉटस्टार, नेटफ्लिक्स, यूट्यूब के कंटेट को भी आप टीवी पर देख सकते हैं.

किस डिवाइस पर करती है काम?

अगर आप सोच रहे हैं कि हर एक फोन और हर एक टीवी पर यह टेक्नोलॉजी काम करती है तो आप थोड़ा सा गलत हैं. क्योंकि हर फोन से टीवी या प्रोजेक्टर में स्क्रीन मिरर नहीं हो सकती. इसके लिए टीवी और मोबाइल दोनों में स्क्रीन मिररिंग को सपोर्ट करने वाला फीचर होना जरूरी है. हालांकि कई बार एक ही कंपनी के दोनों डिवाइस में कंपेटिबिलटी होती है, जैसे आईफोन और आईपैड की स्क्रीन को एपल टीवी पर आसानी से स्क्रीन मिरर किया जा सकता है. कुछ आईफोन और आईपैड दूसरे स्मार्ट टीवी में भी स्क्रीन मिरर के फीचर को सपोर्ट करते हैं. इसके अलावा जिन एंड्रॉयड फोन, टेबलेट और स्मार्ट टीवी में स्क्रीन मिरर का ऑप्शन होता है वहां भी आप ये टेक्नॉलोजी यूज कर सकते हैं. इसके अलावा और कहीं भी नहीं कर सकते हालांकि आजकल तो अधिकतर घरों में स्मार्ट टीवी का होना आम बात हो गई है और स्मार्टफोन तो हर घर का ऑक्सीजन बना ही हुआ है.

कैसे करें स्क्रीन मिररिंग

सबसे पहला तरीका है कि आपके पास स्मार्टफोन हो और स्मार्ट टीवी हो. आजकल फोन और टीवी दोनों में स्क्रीन मिरर का ऐप होता है जिसकी मदद से आप फोन की स्क्रीन को बड़ा करके टीवी पर देख सकते हैं. जैसे आईफोन और एपल टीवी के लिये एयरप्ले ऐप होता है

दूसरा तरीका है डिवाइस की मदद से आप फोन स्क्रीन को टीवी पर देख सकते हैं, इसके लिये स्मार्टफोन जरूरी है और सपोर्ट करने के लिये क्रोमकास्ट, रोकू और फायर स्टिक जैसी कोई एक डिवाइस होनी चाहिये. इस डिवाइस की मदद से आप नॉर्मल टीवी पर भी फोन की स्क्रीन देख सकते हैं.

Related Stories

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com