दतिया की पहचान एज्यूकेशन हब के रूप में बनती जा रही है - गृहमंत्री डॉ मिश्र

दतिया की पहचान एज्यूकेशन हब के रूप में बनती जा रही है - गृहमंत्री डॉ मिश्र
दतिया की पहचान एज्यूकेशन हब के रूप में बनती जा रही है - गृहमंत्री डॉ मिश्र

दतिया की पहचान एज्यूकेशन हब के रूप में बनती जा रही है - गृहमंत्री डॉ मिश्र

7 करोड़ की लागत से लॉ कॉलेज का भवन बनेगा, 1 करोड़ 50 लाख की लागत से स्मार्ट सिटी पार्क बनेगा

दतिया। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में दतिया कोटा (राजस्थान) से आगे बढ़ रहा है। दतिया की पहचान अब ”एज्यूकेशन हब” के रूप में बनती जा रही है। दतिया में मेडीकल कॉलेज, नर्सिग कॉलेज, पोलीटैक्निक, बैटनरी एवं फिसरीज कॉलेज के साथ ही पुलिस ट्रेनिंग सेंटर भी शुरू हो रहा है। गृहमंत्री डॉ. मिश्र रविवार को दतिया में लाला के ताल के पास 1 करोड़ 50 लाख की लागत से बनने वाले सिटी पार्क के कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

गृहमंत्री ने इसके पूर्व मिनी स्मार्ट सिटी योजना के तहत् 80 लाख की लागत से निर्मित खेड़ापती हनुमान मंदिर लाला के तालाब से हाईवे सड़क मार्ग एवं पेबर ब्लाक का लोकार्पण भी किया।

गृहमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि दतिया में सात करोड़ की लागत से विधि महाविद्यालय भवन का निर्माण किया जायेगा। जिसका कार्य शीघ्र शुरू होगा। उन्होंने कहा दतिया में लाला के ताल पर स्थित वोट क्लब के बाद भी लोग वोटिग (नौकायन) का आनंद नहीं ले पा रहे थे। अब वोटिग भी शीघ्र शुरू की जायेगी। जिससे दतिया वासी नौकायन कर सकेंगे।

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कार्यक्रम को संबोधित कर कहा कि दतिया के विकास के साथ क्षेत्र की कला एवं संस्कृति को बढ़ावा देने हेतु दतिया महोत्सव जैसे अनेको कार्यक्रम आयोजित किए गए है। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा शनिवार से वन-टू-वन चर्चा कर लोगों की समस्याओं को सुनकर उनको दूर किया जा रहा है।

गृह मंत्री ने कहा कि स्वच्छता के मामले में देश में इन्दौर की पहचान एक मॉडल के रूप में बनी है जिसे लोग अपना रहे है। दतिया वासियों को भी इन्दौर की तर्ज पर अपने मन में स्वच्छता का भाव पैदा कर शहर को स्वच्छ बनाने में योगदान देना होगा। उन्होंने कहा कि दतिया वासियों के प्रयासों का ही परिणाम है कि स्वच्छता के क्षेत्र में दतिया 250 रैकिंग के स्थान पर अब 145वें पायदन पर आ गया है। आने वाले समय में हमें स्वच्छता के क्षेत्र में दतिया को अग्रणी शहरों में लाना है। उन्होंने कहा कि दतिया ग्वालियर संभाग का ऐसा जिला है जो विकास के मामले में अग्रणीय है। उन्होंने कहा कि कोरोना की द्धितीय लहर के दौरान जिले में किसी भी प्रकार की मरीजों को परेशानी नहीं होने दी गई। दवाओ, वेंटीलेकर, रमेडीसीवर इंजेक्शन आदि की पर्याप्त व्यवस्थायें रखी गई। उन्होंने कहा कि मेडीकल ऑक्सीजन उत्पादन के क्षेत्र में भी आज दतिया जिला आत्म निर्भर होकर अन्य जिलों को ऑक्सीजन सप्लाई करने की स्थिति में है।

कार्यक्रम के शुरू में पूर्व विधायक प्रदीप अग्रवाल, विपिन गोस्वामी, प्रशांत ढेंगुला, योगेश सक्सैना, गिन्नी राजा परमार, धर्मेन्द्र शुक्ला, जमुना प्रसाद साहू, विजय सचदेवा, मीनाक्षी कटारे, डा. परशुराम अहिरवार, कालीचरण कुशवाहा ने भी गृहमंत्री द्वारा जिले में किए गए विकास कार्यो पर भी प्रकाश डाला।

इस अवसर पर पूर्व विधायक डॉ. आशाराम अहिरवार, जिला पंचायत सीईओ कमलेश भार्गव, रामदास झस्या, पंकज गुप्ता, डॉ. रामजी खरे, अतुल भूरे चौधरी, मुलू उपाध्याय, सुनील तिवारी, जीतू कमरिया, श्रीमती रजनी पुष्पेन्द्र रावत, राजू त्यागी, श्रीमती किरण गुप्ता, सतीश यादव, प्रवीण पाठक, आकाश भार्गव, आदि उपस्थित रहे।

--------

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com