उन्मुखीकरण कार्यक्रम सम्पन्न

ऑमिक्रोन की रोकथाम हेतु मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद में ब्लॉक स्तरीय
उन्मुखीकरण कार्यक्रम सम्पन्न
उन्मुखीकरण कार्यक्रम सम्पन्न

उन्मुखीकरण कार्यक्रम सम्पन्न

दतिया।आमजन को कोरोना की तीसरी लहर ऑमिक्रोन बचाव व रोकथाम हेतु जागरूक करने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के तत्वावधान में सभागार जनपद पंचायत सेंवढ़ा में वॉलिंटियर्स, स्वयंसेवी संस्थाओं एवं ग्राम पंचायत सचिवों के साथ उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें ग्राम विकास प्रस्फुटन समितियों, नवांकुर संस्थाओं, सीएमसीएलडीपी छात्र-छात्राएं एनजीओ एवं समाजसेवी आदि की उपस्थिति रही।आयोजित उन्मुखीकरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सुशील बरुआ संभागीय समन्वयक रहे। विशिष्ट अतिथि मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत अधिकारी ओ.एन. गुप्ता, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. उत्तम शर्मा रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुनेन्द्र शेजवार जिला समन्वयक ने की।मुख्य अतिथि श्री बरुआ ने कोरोना की थर्डवेव के संबंध एवं डेंगू मलेरिया के संबंध में उपस्थित प्रतिभागियों को स्वयं सुरक्षित रहने एवं समुदाय को जागरूक करने के लिए रोको टोको अभियान, 2 गज दूरी- मार्क्स जरूरी, सभी को टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित करने का आव्हान किया। डॉ शर्मा ने अपने आसपास पानी को लंबे समय तक एकत्र न रहने देने के संबंध में सभी लोगों को बताया गया। साथ ही पानी के अंदर सरसों का तेल हल्की डालने तथा नालियों में जला हुआ ऑयल डालने के लिए लोगों से कहा जिससे डेंगू मलेरिया न फैले।अध्यक्षता कर रहे शेजवार ने जिले में आई बाढ़ के संबंध में सभी लोगों को आपदा प्रबंधन के संबंध में विस्तार पूर्वक चर्चा की तथा सभी लोगों को अपने-अपने गांव में इसकी जागरूक करने हेतु बैठकें करने के लिए कहा गया।

कार्यक्रम के अंत में कोरोना काल में कार्य करने वाले वॉलिंटियर्स को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। जन अभियान परिषद की प्रस्फुटन नवांकुर समृद्धि दृष्टि एवं मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास पाठ्यक्रम के जल्दी शुरू होने के संबंध में विस्तार पूर्वक बताया गया। कार्यक्रम में अनिल पुजारी, समाजसेवी गजेन्द्र पाण्डेय, रजत अग्रवाल, अवनीश कुशवाह, प्रदीप कुशवाह, फूल सिंह कुशवाहा आदि लोग उपस्थित रहे। उक्त जानकारी राजकुमार वर्मा मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद ने दी

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com