झांसी पुलिस का पत्रकारों के खिलाफ गलत रवैया, पत्रकारों में आक्रोश, दिया ज्ञापन

झांसी पुलिस का पत्रकारों के खिलाफ गलत रवैया, पत्रकारों में आक्रोश, दिया ज्ञापन
झांसी पुलिस का पत्रकारों के खिलाफ गलत रवैया से पत्रकारों में आक्रोश, दिया ज्ञापन

आजाद हिंदुस्तान में झांसी पुलिस की अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ पत्रकार हुए लामबंद

मांगे पूरी न होने पर पीएम सीएम के आगमन पर काली पट्टी बांध कर करेंगे कार्य

झांसी। आजाद हिंदुस्तान में आज भी अंग्रेजी शासक जारी है। झांसी पुलिस का पत्रकारों के प्रति बिगड़ता हुआ रवैया से अक्रोशित पत्रकारों ने लामबंद होकर जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर तीन दिन में मांगे पूरी न होने पर काली पट्टी बांध कर प्रधान मंत्री ओर मुख्यमंत्री कार्यक्रम को कवरेज करने की चेतावनी दी है।

सोमवार को झांसी मीडिया क्लब के तत्वावधान में अध्यक्ष मुकेश वर्मा के नेतृत्व में पत्रकारों ने एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन में बताया गया की पुलिस लगातार पत्रकारों का उत्पीड़न कर रही। शासन के निर्देश होने के बावजूद पत्रकारों पर बिना जांच पड़ताल किए मुकदमे दर्ज किए जा रहे है। मुकदमे दर्ज कर सच्चाई लिखने वाले पत्रकारों को डराया धमकाया जा रहा। यह स्थिति ठीक नही है। ज्ञापन में बताया पिछले दो माह पूर्व पत्रकार मनीष श्रीवास्तव के घर हुई चोरी की घटना का आज तक सीपरी पुलिस ने खुलासा नही किया। इस चोरी कांड की घटना का खुलासा किया जाए। वही सीपरी थाना ओर गरोठ थाना में अभी एक सप्ताह पूर्व दो वरिष्ठ पत्रकारों के विरुद्ध गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। जिन्हे निरस्त किया जाए। थाना नवाबाद मे एक शातिर अपराधी राजा साहब भदौरिया को बचाने के लिए पुलिस ने पत्रकारों पर मुकदमा दर्ज किया उसे निरस्त किया जाए साथ ही राजा साहब भदौरिया पर दर्ज मुकदमे में चार्ज शीट लगाई जाए। वही पंचायत चुनाव के दौरान थाना बबीना क्षेत्र में पत्रकार मनीष साहू पर हमला हुआ था जिसकी वीडियो ग्राफी भी है। इस प्रकरण में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो। वही पत्रकारों के साथ आए दिन अभद्रता, दुव्यव्हार तथा जानबूझ कर पत्रकारों के खिलाफ फर्जी मुकदमा लिख कर उनका उत्पीड़न किया जा रहा। ऐसे कोतवाल को पत्रकारों के खिलाफ गलत कार्यवाही करने से रोका जाए। साथ ही ज्ञापन में कोतवाल व उनकी कार खासी करने वाले सिपाही जिसने सरकारी दस्तावेज में अपनी पोस्टिंग बचाने के लिए ओवर राइटिंग की थी। इन दोनो के खिलाफ विभागीय जांच हो ओर इन्होंने जो क्षेत्र में जो भ्रष्टाचार फैला रखा है, जगह जगह अवैध कारोबार कच्ची शराब, गांजा, व सट्टे का कारोबार हो रहा है। इसे रोका जाए और कोतवाल व सिपाही की आय से अधिक संपत्ति की जांच कराई जाए। ज्ञापन में इन मांगों को तीन दिन में पूरा न करने पर बड़ा आंदोलन करने तथा प्रधान मंत्री ओर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम कवरेज में काली पट्टी बांधने की चेतावनी दी गई है।

ज्ञापन में वरिष्ठ पत्रकार रामकुमार साहू, वरिष्ठ पत्रकार शशांक त्रिपाठी, साक्षी राय, रोहित झा, रिपु सूदन नामदेव, राजेश चौरसिया, रानू साहू, विजय कुशवाह, अख्तर खान, प्रभात साहनी, इमरान खान, दीपक चौहान, सैय्यद तारिक अली, प्रमेंद्र सिंह, बृजेश साहू, नीरज साहू, राकेश शर्मा, अतुल वर्मा, आफरीन खान, पंकज भारती, राहुल कोस्टा, कलाम कुरेशी, धीरज शिवहरे, मोहम्मद इरशाद, अरुण वर्मा, डॉक्टर एके कनोजिया, नीरज साहू, मुकेश तिवारी, आलोक श्रीवास्तव, अमित रावत, दुर्गा शंकर दीक्षित, निलेश उदेनिया, सतेंद्र मिश्रा, उदय कुशवाह, कमर कुरैशी, बट्टा गुरु निषाद, आदी पत्रकार उपस्थित रहे।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com