जल के महतत्व को समझते हुए सदुउपयोग करें - कलेक्टर

जल जीवन मिशन के तहत् चार दिवसीय कार्यशाला का किया शुभारंभ
जल के महतत्व को समझते हुए सदुउपयोग करें - कलेक्टर
जल के महतत्व को समझते हुए सदुउपयोग करें - कलेक्टर

जल के महतत्व को समझते हुए सदुउपयोग करें - कलेक्टर

दतिया / कलेक्टर श्री संजय कुमार ने कार्यशाला के माध्यम से लोगांे का जीवन में जल के महत्व को बताते हुए कहा कि जल मिशन के तहत् जो सरंचनायें बनाई गई है ंउन पर निगरानी रखते हुए समुदाय उनका सद्उपयोग करें तथा समय पर जलकर की राशि भी जमा करायें।कलेक्टर श्री कुमार मंगलवार को जल जीवन मिशन के तहत् पंचायत प्रतिनिधियों तथा पेयजल स्वच्छता समितियों के चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। ”आजादी के अमृत महोत्सव” के तहत् दतिया के मोटल होटल में जल जीवन मिशन के तहत् केआरसी, जेपीएस, फाउंडेशन लखनऊ द्वारा आयोजित कार्यशाला में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कमलेश भार्गव, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री धनंजय मिश्रा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री राजेश श्रीवास्तव, केपीएस फाउण्ड़ेशन के सीईओ श्री केपी सिंह सहित पेयजल स्वच्छता समिति के सदस्य आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के चित्र पर मार्ल्यापर्ण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया।कलेक्टर श्री संजय कुमार ने कार्यशाला को संबोधिम करते हुए कहा कि जल ही जीवन है इसे ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने जल मिशन के तहत् देश के ग्रामीण अंचलों में लोगों को शुद्ध पेयजल नलों के माध्यम से उपलब्ध कराने का कार्यक्रम बनाया गया है। जिससे लोगो को शुद्ध एवं स्वच्छ पेयजल आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि जिले में जल जीवन मिशन के तहत् जो संरचनाएं निर्मित की गई है उनकी देखरेख गुणवत्ता के साथ उनका सभी समुदाय को उसका सही लाभ मिले इस पर भी ध्यान देना है। उन्होंने कहा कि जल कर के रूप में जो 60 रूपये की राशि प्रतिमाह प्रति परिवार से ली जानी है उसका समय पर भुगतान भी करें।कलेक्टर ने कार्यशाला में उपस्थित हुए पेयजल स्वच्छता समिति के सदस्यों से भी आग्रह किया कि कार्यशाला के माध्यम से जो वातें बताई गई है। उन बातों को ग्रामीणों को बताए कि जीवन में हवा, पानी जो निःशुल्क प्रकृति ने प्रदाय किए है उसका महत्व एवं मूल्य समझे और उनका दुरूपयोग न हो। उन्होंने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता के तहत् गरीबों के लिए खाद्यान, पीने का पानी एवं सिर ढ़कने के लिए आवास उपलब्ध कराये जा रहे है।कार्यशाला को जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कमलेश भार्गव ने संबोधित करते हुए कहा कि यह बड़ी खुशी की बात है कि जिले के पांच ग्रामों में स्व‘सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। जो महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक नया कदम है। कार्यशाला में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री राजेश श्रीवास्तव ने जल जीवन मिशन के तहत् जिले के गांवों में ली गई योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम के शुरू में स्वागत भाषण देते हुए जेपीएस, फाउंडेशन लखनऊ के सीईओ श्री केपी सिंह ने कहा कि वह पांच प्रदेशों में जल जीवन मिशन के तहत् प्रशिक्षण प्रदाय कर रहे है। इसके साथ प्रदेश के 6 जिले जिसमें दतिया, छतरपुर, निवाड़ी टीकमगढ़ और भिण्ड़ जिला शामिल है। जिसमें प्रशिक्षण की शुरूआत दतिया जिले से की गई है। कार्यक्रम को श्री अनिल सिंह आदि ने संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए प्रशिक्षण भी श्री रामजी राय द्वारा दिया गया।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com