मऊरानीपुर के ग्राम छाती पहाड़ी में चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत पुराण की कथा

मऊरानीपुर के ग्राम छाती पहाड़ी में चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत पुराण की कथा
मऊरानीपुर । ग्राम छाती पहाड़ी में चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत पुराण की कथा

मऊरानीपुर । ग्राम छाती पहाड़ी में चल रही संगीतमय श्रीमद् भागवत पुराण की कथा का वाचन करते हुए कथा व्यास चरणदास शास्त्री ने कहा कि मनुष्य को भगवान की कथा तब प्राप्त होती है जब हमारे अनंत जन्मों के भाग्य उदय होते है। और अगर ऐसा समय हमारे जीवन में आता है तो उसे कभी भी खोना नही चाहिए क्योंकि जिस परमात्मा ने यह सादा जीवन हमें दिया है तो हम परमपिता को कुछ समय पुराण की कथा श्रवण करने में निकल सकते है।

उन्होंने कहा कि भगवान का नाम जपने से भक्त का उद्धार हो जाता है। ईश्वर के नाम में इतनी बड़ी शक्ति है कि कोई भी इंसान सच्चे मन से भजने लगे तो उसके जीवन का बेड़ा पार हो जाता है।

पुराण प्रवक्ता ने बताया की संत की सेवा हम सभी को सच्चे मन से करनी चाहिए। जिससे संतौ का दिया हुआ आशीर्वाद सदा मनुष्य के जीवन भर काम आता रहता है। उन्होंने गुरु की महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि जब भी गुरु बनाना हो तो सबसे पहले अपने मन को पवित्र करो फिर गुरु के दिए हुए ज्ञान पर चलो तभी ईश्वर की कृपा सदा बनी रह सकती है। और जो कोई भी गुरु मंत्र का जाप नही करता है वह तमाम प्रकार की व्याधियों से घिर जाता है।

पुराण की आरती कथा यजमान संगीता जगन्नाथ यादव ने उतारी। इस दौरान रघुवीर यादव, रामपाल सिंह यादव, हरचरन यादव, रविन्द्र सिंह यादव, नीरज यादव, प्रेमदेवी, चिरंजी बाई, पावती देवी, रवि यादव, लाला यादव, लल्ला यादव, सुरेंद्र द्विवेदी मौजूद रहे।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com