सपा के टिकट वितरण को देख रही जनता, 10 मार्च को हाल, लाल टोपी जैसा होगा लाल

public watching the ticket distribution of SP, March 10, condition will be red like a red cap
सपा के टिकट वितरण को देख रही जनता, 10 मार्च को हाल, लाल टोपी जैसा होगा लाल
सपा के टिकट वितरण को देख रही जनता, 10 मार्च को हाल, लाल टोपी जैसा होगा लाल

सपा के टिकट वितरण को देख रही जनता, 10 मार्च को हाल, लाल टोपी जैसा होगा लाल

रिपोर्टर निखिल कुमार सिंह

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि भाजपा की दोबारा सरकार बनती है तो गुंडे और अपराधियों पर वैसे ही कार्रवाई होगी, जैसे पहले इन्हें बिल में घुसाया था। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अपराधियों के साथी हाथ में अन्न लेकर संकल्प करने का नाटक कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, “मैं प्रदेशवासियों को आश्वस्त करता हूँ कि जनता-जनार्दन के आशीर्वाद से जब 10 मार्च को भारतीय जनता पार्टी पुनः प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी तो वह फिर से पेशेवर गुंडों व अपराधियों पर वैसे ही टूटेगी, जैसे पहले इन्हें बिल के अंदर घुसाया था।”

अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी ने उन्हें ‘जिन्नाप्रेमी’ बताते हुए दंगाईयों और आतंकवादियों का साथी कहा। उन्होंने कहा कि ये लोग आज हाथ में अन्न लेकर किसानों का हितैषी होने का स्वांग कर रहे हैं। आपको बताते चलें कि अखिलेश यादव ने प्रदेश में भाजपा को हराने के लिए ‘अन्न संकल्प’ लिया है।

उन्होंने कहा, “पाँच वर्ष के दौरान हमारी सरकार ने पेशेवर अपराधियों और गुंडों के मन में भय पैदा किया था, जनता को भयमुक्त वातावरण दिया था। आज समाजवादी पार्टी का चेहरा एक बार फिर से सबके सामने आ गया है। कैराना से लेकर बुलंदशहर तक जो चेहरे समाजवादी पार्टी के सामने आए हैं, उनमें कैराना में हिंदू व्यापारियों के पलायन के लिए जिम्मेदार अपराधियों को, मुजफ्फरनगर के जिम्मेदार अपराधियों को और पेशेवर हिस्ट्रीशीटर को अपना कैंडिडेट बनाकर समाजवादी पार्टी ने अपने वास्तविक चरित्र को देश-प्रदेश के सामने प्रस्तुत कर दिया है कि प्रदेश के बारे में उनकी मंशा क्या है।”

उन्होंने आगे कहा, “उनकी सूची ने इस बात को साबित कर दिया है कि उनका सामाजिक न्याय, गरीबों, दलितों, पिछड़ों, व्यापारियों और सम्मानित नागरिकों की संपत्ति पर कब्जा करने वाले पेशेवर अपराधियों को प्रश्रय देकर उन्हें आगे बढ़ाने की अपनी प्रवृत्ति से आज भी पीछे हटे नहीं हैं।”

बता दें कि साल 2017 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही अपराधियों पर कार्रवाई शुरू हो गई थी। अकेले साल 2021 में विभिन्न मुठभेड़ों में 26 कुख्यात ढेर कर दिए गए। इसी अवधि में 3910 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया। इतना ही नहीं, गैंगस्टर एक्ट के तहत भी 9933 अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा गया। 1012 करोड़ रुपए की संपत्ति को कबत किया गया। पूरे साढ़े 4 वर्षों की बात करें तो भाजपा सरकार में अब तक अपराधियों के 1,900 करोड़ रुपए के साम्राज्य को ध्वस्त किया गया।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com