ग्राम उचाड में विवाहिता की मौत के मामले ने पकड़ा तूल

मायके पक्ष ने दहेज लोभियों पर पेट्रोल डालकर जलाने के लगाए आरोप
ग्राम उचाड में विवाहिता की मौत के मामले ने पकड़ा तूल
ग्राम उचाड में विवाहिता की मौत के मामले ने पकड़ा तूल

दतिया। गोराघाट थाना के गांव उचाड़ में दहेज लोभियों के द्वारा एक विवाहिता को पेट्रोल डालकर जलाने का मामला सामने आया है। युवती का विवाह एक वर्ष पूर्व उचाड़ गांव के छोटू प्रजापति के साथ हुआ था। तभी से मृतका प्रियंका के ससुरालीजन उससे दहेज की मांग कर रहे थे। मृतका प्रियंका के अनुसार दिनांक 16 जुलाई को प्रियंका की जेठानी ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी। जिससे मृतका प्रियंका बुरी तरह झुलस गई।जिसके बाद उसे ग्वालियर के जयारोग्य हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

जहां बीती शाम प्रियंका ने तड़प तड़प कर दाम तोड़ दिया। परिजनों का आरोप है कि, मृतिका के ससुरालियों ने उसकी हत्या कर दी है। मामले में पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज नहीं की है। साथ ही पुलिस ने मामले में मायके पक्ष से शव को छीन कर ससुराल पक्ष को सौप दिया है। जिसका ससुराल पक्ष ने अंतिम संस्कार कर दिया है। मामले में पुलिस का कहना है कि, दोनों पक्षों में विवाद हो रहा था। इस पर मृतका का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। साथी मामले की जांच की जा रही है।

दतिया जिले के गोराघाट थाना क्षेत्र के उचाड़ गांव में एक विवाहिता को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि ग्वालियर जिले के डबरा के सुनबई गांव की प्रियंका की शादी उचाड के छोटू प्रजापति से हुई थी।छोटू के परिजन प्रियंका को दहेज को लेकर को लेकर परेशान करते रहते थे। बताया गया है कि गत 16 जुलाई को प्रियंका के ससुरालीजनों ने उस पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी जिससे प्रियंका बुरी तरह से झुलस गई। उसके परिजन उसे ग्वालियर ले गए और जयारोग्य चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां प्रियंका ने दम तोड दिया।मृतका के भाई देवेंद्र ने बताया कि, उसकी बेटी की मौत के जलने की खबर भी उन्हें नहीं दी गई है। जब उन्हें इसकी जानकारी मिली तो बताया गया कि ग्वालियर भर्ती है।

मृतका का अस्पताल से परिजनों को घटना के बारे में बताने का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें मरने के पूर्व प्रियंका अपने परिजनों को उसके साथ घटित घटना के बारे में अवगत करा रही है। जिसमें प्रियंका कराहते हुए जेठानी ने उसपर पेट्रोल छिड़क कर आग लगने की बात भी कर रही है।मृतका के भाई ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मेरी बहन को जलाकर मारा गया है।

गोराघाट पुलिस हमारी रिपोर्ट भी नहीं लिख रही है। जब सुबह हम अपनी बहन का शव लेकर पुलिस अधीक्षक के पास शिकायत करने जा रहे थे तभी हमारे पास गोराघाट पुलिस ने गाड़ी रोककर परिजनों को थाने में बंद कर दिया और मोबाइल भी जप्त कर लिए हैं। वहीं एसडीओपी दीपक नायक ने बताया कि मामले में ग्वालियर पुलिस के द्वारा मर्ग कायम किया गया है। मार्ग डायरी प्राप्त होने पर मामला दर्ज कर लिया जाएगा। साथ ही मृतका के शव को लेकर ससुराल पक्ष और मायके पक्ष में विवाद की स्थिति बन रही थी। जिसे पुलिस ने सुलझाकर मृतका के ससुराल में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com