विदेश मंत्रालय भारत सरकार एवं भारतीय दूतावास की ओर से समन्वय हेतु राहत आयुक्त एवं सचिव राजस्व विभाग को नोडल अधिकारी नामित किया गया है

राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में भी राज्य कंट्रोल रूम 24×7 स्थापित किया गया है
विदेश मंत्रालय भारत सरकार एवं भारतीय दूतावास की ओर से समन्वय हेतु राहत आयुक्त एवं सचिव राजस्व विभाग को नोडल अधिकारी नामित किया गया है
डीएम रविन्द्र कुमार

रिपोर्टर - पंकज रावत

झाँसी/ डीएम रविन्द्र कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने यूक्रेन में उत्पन्न आपातकालीन परिस्थितियों के दृष्टिगत प्रदेश के विद्यार्थी जो अभी यूक्रेन में है उन तक सहायता पहुंचाने के लिए विदेश मंत्रालय भारत सरकार एवं भारतीय दूतावास की ओर से समन्वय हेतु राहत आयुक्त एवं सचिव राजस्व विभाग को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में भी राज्य कंट्रोल रूम 24×7 स्थापित किया गया है, जिसका टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 0522-1070, मोबाइल नंबर-9454441081तथा ईमेल आई0डी0 rahat@nic.in है, इसके अतिरिक्त जनपद झांसी में कंट्रोल रूम स्थापित है, जो 24×7 संचालित है कंट्रोल रूम का संपर्क सूत्र नंबर- 0510-2371100/2371199 है, कंट्रोल रूम के इन नंबरों पर संपर्क स्थापित करते हुए यूक्रेन में फंसे लोगों की एवं उन्हें भारत वापस लाए जाने की सूचना दर्ज करा सकते हैं।

अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह द्वारा जारी किए गए अधिसूचना के अनुपालन में यूक्रेन में उत्पन्न आपातकालीन परिस्थितियों के दृष्टिगत यूक्रेन आने-जाने के लिए सभी कामर्शियल फ्लाईट बंद हैं। यूक्रेन का एयर स्पेस भी बंद है। भारतीय दूतावास कीव यूक्रेन में मौजूद सभी भारतीयों (भारतीय विद्यार्थियों व अन्य लोगों को सम्भावित मदद पहुँचाने के लिए प्रयासरत है। विदेश मंत्रालय, भारत सरकार तथा भारतीय दूतावास कीव, यूक्रेन द्वारा हेल्पलाईन संचालित किया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश के विद्यार्थी/व्यक्ति जो अभी यूक्रेन में हैं उन तक सहायता पहुँचाने के लिए विदेश मंत्रालय, भारत सरकार एवं भारतीय दूतावास कीव से समन्वय हेतु रणवीर प्रसाद, आई.ए.एस. राहत आयुक्त एवं सचिव, राजस्व विभाग, उत्तर प्रदेश शासन को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। नोडल अधिकारी द्वारा विदेश मंत्रालय, भारत सरकार एवं भारतीय दूतावास कीव, यूक्रेन के साथ समन्वय स्थापित करते हुए उत्तर प्रदेश के विद्यार्थी/व्यक्ति जो यूक्रेन में मौजूद हैं, उन्हें स्वदेश लौटने की कार्यवाही को फैसिलिटेट करेंगे।

उत्तर प्रदेश के विद्यार्थी/व्यक्ति जो यूक्रेन में हैं, उनके अभिभावक, माता-पिता या संबंधी उक्त जानकारी देते हुए जिसमें यूक्रेन में फंसे व्यक्ति का नाम, माता पिता का नाम, अभिभावक/संबंधी का नाम, माता-पिता/अभिभावक/संबंधी का मोबाइल नंबर, जनपद का नाम, पूरा पता, किस कार्य के लिए यूक्रेन गए, फंसे व्यक्ति/ छात्र एंंव विद्यार्थी का यूक्रेन का पता, फंसे हुए व्यक्ति/छात्र का यूक्रेन में संपर्क दूरभाष नंबर, परिवार से उनके संपर्क की स्थिति, फंसा हुआ व्यक्ति/छात्र वर्तमान समय पर यूक्रेन में कहां पर है एवं विशेष विवरण सहित समस्त जानकारी कलेक्ट्रेट स्थित कंट्रोल रूम में देना सुनिश्चित करें ताकि सकुशल उन्हें भारत वापस लाया जा सके।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.