हमारा लक्ष्य- बाल श्रम मुक्त दतिया

बाल श्रम मुक्त करने के लिए श्रम विभाग द्वारा टास्क फोर्स
हमारा लक्ष्य- बाल श्रम मुक्त दतिया
हमारा लक्ष्य- बाल श्रम मुक्त दतिया

दतिया जिले को आज बाल श्रम मुक्त करने के लिए श्रम विभाग द्वारा टास्क फोर्स की समिति के साथ शहर के व्यापारी वर्ग की बैठक ली। शहर के समस्त संस्थानों पर बाल श्रमिकों को नियोजित न किया जाने हेतु शपथ दिलाई गई। व्यापारी वर्ग द्वारा वचन लिया गया कि न ही बाल श्रमिक नियोजित करेंगे और न ही किसी को करने देंगे।श्रम निरीक्षक निशा जहां द्वारा बताया गया कि बाल श्रम एक सामाजिक बुराई है तथा पीताम्बरा मां की धरती पर एक कलंक है। कार्यक्रम में बाल कल्याण समिति के सदस्य श्रीमती रश्मि कटारे ने बताया कि स्पॉन्सर स्कीम के तहत आर्थिक रूप से अशक्त ऐसे बालक बालिका जिनके अभिभावक नहीं है उनको आर्थिक सहायता दी जाएगी।

जन शिक्षण संस्थान की जिला संयोजक श्रीमती निधि तिवारी द्वारा भी बताया गया कि कि जो भी किशोर श्रमिक हैं उन्हें कौशल प्रशिक्षण संस्थान द्वारा शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम दरों पर दिया जाता है कार्यक्रम में मुख्य रूप से विभिन्न एनजीओ ने भी अपनी सहभागिता दिखाई श्री रामजी राय द्वारा बाल श्रम से संबंधित कानूनी प्रावधानों की जानकारी दी गई कार्यक्रम में

संरक्षण अधिकारी श्री धीर सिंह कुशवाह चाइल्डलाइन प्रभारी श्री सोमेश कुमार, जीएम डी आई सी सुश्री संगीता एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com