अब हिंदी में मिलेगी ओलंपिक खेलों की सारी जानकारी, आ गया है चैनल

अब हिंदी में मिलेगी ओलंपिक खेलों की सारी जानकारी, आ गया है चैनल

Ashish Urmaliya || Pratinidhi Manthan

किसीभी खेल को हिट बनाने में संचार मुख्य किरदार निभाता है। भारत में उदाहरण के तौर परहम क्रिकेट को देख सकते हैं, जब भी भारतीय टीम का किसी भी देश के साथ कोई भी वन डेमैच होता है, तब वह मैच देश के सरकारी चैनल 'दूरदर्शन' पर लाइव टेलीकास्ट किया जाताहै और यह परंपरा दशकों पुरानी है, ताकि देश के कौने-कौने में बैठे लोग, जहां प्राइवेटचैनलों की पहुंच नहीं थी वहां पर भी मैच का लुत्फ़ उठा सकें। और इसी सुविधा ने देश केकौने-कौने में क्रिकेट की लोकप्रियता को बढ़ा दिया। उसके बाद क्रिकेट को मीडिया का भीबड़ा कवरेज मिलना शरू हो गया और भारत में क्रिकेट एक अलग धर्म बनता गया। लेकिन इसकेचलते भारत में अन्य खेलों का महत्व भी कम होता गया, क्योंकि उन खेलों को सरकार और मीडियाद्वारा इतनी तवज्जो नहीं मिली। यह सब में आपको संचार की ताकत का एहसास दिलाने के लिएबता रहा हूं।

देशऔर दुनिया में खेले जाने वाले सभी खेलों की बात करें, तो अनगिनत होंगे। लेकिन ओलंपिकखेलों में मुख्य रूप से दुनियाभर के देशों द्वारा जिन खेलों को खेला जाता है उनकी संख्याहै करीब 33। दुनियाभर के देशों द्वारा इन 33 खेलों को सामान भाव से महत्व दिया जाताहै, लेकिन भारत में इन 33 खेलों का अस्तित्व कहीं न कहीं खतरे में नजर आ रहा है। शायदइसी बात को मद्दे नजर रखते हुए अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने अब ओलंपिक चैनल को हिंदीमें उपलब्ध करा दिया है। 

अब हिंदी में उपलब्ध है ओलिंपिकचैनल

पहलेअंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति का ओलिंपिक खेलों से संबंधित चैनल सिर्फ अंग्रेजी भाषामें उपलब्ध था, लेकिन अब ओलिंपिक चैनल.कॉम और इसका मोबाइल एप दुनियाभर की 12 भाषाओंमें सामग्री उपलब्ध कराएगा, जिसमें हिंदी भी शामिल है।

इस चैनल पर आपको क्या मिलेगा?

इसचैनल पर पूरे साल ओलंपिक सितारों से जुड़ी दिलचस्प कहानियां और खेलों से जुड़ी जानकारीहिंदी में उपलब्ध कराई जायेगी। इसके जरिये स्थानीय स्तर पर समाचार, दैनिक समाचार, फीचर्सऔर ओलंपिक से जुड़े भारतीय खिलाडियों, टीमों और खेलों पर आधारित डॉक्यूमेंट्री और ओरिजिनलसीरीज को प्रस्तुत किया जायेगा। फिलहाल भारतीय दर्शक इस चैनल पर चार भाग की नई डॉक्युमेंट्री'शक्ति: भारत की सुपरवुमेन' देख सकते हैं।

ओलंपिकचैनल की इस ओरिजिनल सीरीज 'शक्ति: भारत की सुपरवुमेन' में भारत की ओलंपिक पदक विजेतामहिला खिलाडियों दीपा करमाकर, दीपिका कुमारी, साक्षी मलिक और संध्या शेट्टी के खेलजीवन में आई मुश्किलों और उन मुश्किलों को पार करते हुए सफलता तक के सफर को बखूबी दर्शायागया है।

इंटरनेशनलओलंपिक कमेटी(IOC) के वैश्विक ओलंपिक चैनल के महाप्रबंधक मार्क पार्कमैन ने कहा, कि'वैश्विक डिजिटल प्लेटफॉर्म पर हिंदी भाषा की उपलब्धता ओलंपिक चैनल के विकास की दिशामें एक महत्वपूर्ण कदम है, इस सुविधा के जरिये हम दुनियाभर के ओलंपिक प्रशंसकों कोअधिक से अधिक व्यक्तिगत अनुभव देने का प्रयास कर रहे हैं।'

साथही उन्होंने यह भी कहा, कि 'इसके पीछे हमारा एक उद्देश्य यह भी है कि 2020 तक आते-आतेहम दुनियाभर के ज्यादा से ज्यादा प्रशंसकों को एक साथ ला सकें और उनकी संख्या में इज़ाफ़ाभी कर सकें ताकि टोक्यो ओलंपिक 2020 और भी दिलचस्प और मजेदार बने।  

ये रही हिंदी वाली लिंक-

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.