हिन्दू जागरण मंच के तहत हुआ माँ बेटी सम्मेलन

बेटा भाग्य से और बेटी सौभाग्य से पैदा होती है
हिन्दू जागरण मंच के तहत हुआ माँ बेटी सम्मेलन
कार्यक्रम में मौजूद लोग

दतिया / जब घर मे बेटी पैदा होती है तो उसकी प्रथम गुरु उसकी मां ही होती है। माँ ही अपनी बेटी को संस्कारवान बनाती है। प्रायः देखा जा रहा है कि लव जिहाद समाज की एक बहुत बड़ी समस्या बन गई है जिसमें हमारी बेटियां विधर्मियों के चंगुल में फंस कर अपना जीवन बर्बाद कर देतीं हैं। यह बात हिन्दू जागरण मंच के बेटी बचाओ के विभाग प्रमुख संजय दीक्षित ने रविवार को सरस्वती विद्या मंदिर भरतगढ़ में हिन्दू जागरण मंच के तहत आयोजित माँ-बेटी सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि माँ को अपनी बेटियों का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए की वह किसी गलत संगत में न पड़े।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए संगठन की वीरांगना वाहिनी की जिला संयोजिका मानसी मुड़ोतिया ने कहा कि बेटा भाग्य से और बेटी सौभाग्य से पैदा होती है, घर की लक्ष्मी होती हैं बेटियां। उन्होंने कहा कि हम माओं को अपनी बेटियों से मित्रवत व्यवहार रखना चाहिए जिससे हमें उनके विषय मे सारी जानकारी हो कि उनका मित्र समूह कैसा है। क्या वह किसी गलत संगत का शिकार तो नहीं हो रहीं हैं।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में संगठन के विभाग सह संयोजक देवेंद्र मुदगल, विभाग सह संयोजक लोकेंद्र तोमर, प्रान्त सह विधि प्रमुख रामजी दंडोतिया उपस्थित रहे। कार्यक्रम के दौरान संगठन के जिलाध्यक्ष रवि शर्मा ने लव जिहाद जैसे विषय पर विस्तृत प्रकाश डाला।कार्यक्रम का संचालन वीरांगना वाहिनी की जिला सह संयोजिका रेनू गुप्ता व आभार व्यक्त जिला बेटी बचाओ प्रमुख कदम सिंह जादौन ने किया। कार्यक्रम के अंत में अथितियों ने संगठन के कार्यकर्ता सतेंद्र सिंह गुर्जर को बेटी बचाओ का सह जिला प्रमुख का दायित्व सौंपा। कार्यक्रम में जिला महामंत्री उदय परमार, जिला कोषाध्यक्ष आत्माराम झारखडिया, जिला उपाध्यक्ष भास्कर गोरे, जिला मंत्री अमन मिश्रा, जिला प्रचार प्रमुख अंकित समाधिया, नगर संयोजिका रेखा सेन, अंजली दीक्षित, सोनम शर्मा, श्वेता गोरे, रश्मि जादौन, सीमा कुशवाहा, प्रशांत सेन, शिवम दुबे, अमन यादव सहित बड़ी संख्या में महिलाएं एवं बेटियां उपस्थित रहीं।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com