जौनपुर- जिलाधिकारी कार्यालय फरियाद लेकर पहुंची महिलाएं

राज्यमंत्री पर मढ़ी गंभीर आरोप
जौनपुर- जिलाधिकारी कार्यालय फरियाद लेकर पहुंची महिलाएं
जौनपुर- जिलाधिकारी कार्यालय फरियाद लेकर पहुंची महिलाएं

जौनपुर- जिलाधिकारी कार्यालय फरियाद लेकर पहुंची महिलाएं

जौनपुर। नगर कोतवाली थाना क्षेत्र के शकरमंडी सुल्तानपुर हाय मोहल्ले की आधा दर्जन से अधिक महिलाएं डीएम आफिस पहुंचकर जिला प्रशासन को मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन सौपी। ये महिलाएं अपने मोहल्ले के निवासी मामता मौर्या नामक महिला के परिवार को न्याय दिलाने के लिए जिलाधिकारी के दरवाजे पर आयी थी। आरोप है कि एक वर्ष पूर्व ममता ने जरजर अपना पुराना दो मंजिला मकान गिराकर पुनः बनवा रही थी लेकिन पड़ोस की एक महिला के इशारे पर मंत्री गिरीश चंद्र यादव बनने नही दे रहे है। मकान न होने के कारण पीड़ित परिवार टीन सेड डालकर किसी तरह से अपने आपको जिन्दा रखे हुए है। पीड़ित महिला का यह वीडियों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

विधानसभा चुनाव 2022 के ऐन वख्त पर नगर विधायक व राज्यमंत्री के खिलाफ एक एक करके लोग अपनी भड़ास निकाल रहे है। पहले भाजपा नेता रविन्द्र कुमार मिश्रा ने अपने समर्थको के साथ मीडिया के सामने गिरीश यादव पर कई गम्भीर आरोप जड़ा,दूसरे दिन आरएसएस के पूर्व प्रचारक मैनबहादुर सिंह ने अपनी नैकरी छिनने समेत कई आरोप लगाया था। उधर भारतीय दिव्यांग क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान व मुख्य चयनकर्ता आशीष श्रीवास्तव ने नगर पालिका चुनाव में मंत्री पर भाजपा प्रत्याशी स्व0 किरन श्रीवास्तव को भीतरघात करके चुनाव हराने का आरोप लगाया तथा किरन श्रीवास्तव का बदला लेने के चुनाव मैदान में ताल ठोक दिया है।

सोमवार को आधा दर्जन से अधिक आम महिलाएं घर की दहलीज पार करके जिलाधिकारी कार्यालय पहुंच गयी। इन महिलाओं ने नगर विधायक व मंत्री गिरीश चंद्र यादव पर ममता मौर्या नामक का घर न बनने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौपी।

ममता मौर्या ने पत्रकारों को बताया कि नगर कोतवाली थाना क्षेत्र शकरमण्डी सुल्तानपुर हाय मोहल्ले में मेरा पुश्तैनी मकान है वह एक वर्ष पहले गिर गया मै उसे बनवाने के लिए मास्टर प्लान से नक्शा पास करने के बाद बनवाने लगी तो पड़ोसी एक लड़की के कहने पर मंत्री गिरीश चंद्र यादव ने बनने नही दे रहे है। उन्होने मेरे द्वारा बनवाये गये नक्से को अपनी शक्ति का दुरूपयोग करते हुए स्टे करा दिया है। जब मैं थाना चौकी या किसी अधिकारी के पास जाती हूं मेरी कोई सुनावाई नही हो रही है। दूसरा कोई मकान न होने कारण उसी जमीन पर टीन सेड डालकर हम बाल बच्चो व घर की अन्य महिलाओं के साथ रहने को मजबूर है।

फ़िलहाल इस आरोप पर कितना सच्चाई है, अधिकारियों के जांच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा।

इस मौके पर ममता के साथ सीमा मौर्या, विजय लक्ष्मी, पूनम मौर्या, सविता सिंह, शोभवती मौर्या समेत कई लोग मौजूद रहे

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com