स्टार्टअप करना चाहते हैं तो इन शहरों की ओर भागें! 

स्टार्टअप करना चाहते हैं तो इन शहरों की ओर भागें! 

स्टार्टअप करना चाहते हैं तो इन शहरों की ओर भागें!

Ashish Urmaliya || The CEO Magazine

TiE-NCR (गैर-लाभकारी संगठन) और जिन्नोव (व्यवसाय प्रबंधन सलाहकार), गुरुग्राम, हरियाणा ने साथ मिलकर स्टार्टअप से जुड़ा एक सर्वे किया है, जिसमें निकल कर सामने आया है, कि दिल्ली-एनसीआर स्टार्टअप कैपिटल है। यानी देश के बाकी शहरों की तुलना में दिल्ली-एनसीआर में सबसे ज्यादा स्टार्टअप मौजूद हैं। हालांकि इस रिपोर्ट में यह आंकड़ा भी सामने निकल आया है, कि साल 2019 में पिछले सालों की तुलना में सबसे कम स्टार्टअप हुए हैं।

तो आइये रिपोर्ट में जारी किये गए सभी आंकड़ों पर नजर डालते हैं और साथ ही जानते हैं देश के किस शहर में कितने स्टार्टअप्स मौजूद हैं।

-साल 2015 में 15 अगस्त के दिन मोदी जी ने स्टार्टअप इंडिया की शुरुआत की थी। और साल 2016 आते-आते यह योजना अपनी हाइट पर पहुंच गई। इस साल यानी साल 2016 में रिपोर्ट के मुताबिक करीब 5875 स्टार्टअप की शुरुआत हुई। फिर साल 2017 आया और इस साल देशभर में कुल 3478 स्टार्टअप्स की शुरुआत हुई। 2018 में यह आंकड़ा 2936 था और 2019 में नए स्टार्टअप्स का आंकड़ा घटकर 800 पर पहुंच गया है।

सबसे ज्यादा स्टार्टअप वाले देश के तीन शहर-

देश के दिल्ली-एनसीआर सबसे ज्यादा 7039 स्टार्टअप्स मौजूद हैं। इसके बाद जिस शहर का नाम आता है वह है बेंगलुरु जहां पर स्टार्टअप्स की संख्या 5234 है. और तीसरे नंबर पर 3829 स्टार्टअप्स के साथ मुंबई का नाम मौजूद है।

सिर्फ दिल्ली एनसीआर की बात कर लेते हैं-

दिल्ली एनसीआर में तीन शहरों का संयोजन है। और यहां अकेले दिल्ली शहर में 4491, गुरुग्राम में 1544 और नोएडा में 1004 स्टार्टअप मौजूद हैं।

दिल्ली में भी देश ही की तरह लगातार हर साल घट रही है संख्या-

2016 में यहां स्टार्टअप का आंकड़ा 1361 था, 2016 में 826 हुआ, फिर 2018 में आंकड़े में और ज्यादा घटोतरी हुई और यह 420 पर रहा। फिर आया साल 2019 और इस साल के आंकड़े सिर्फ 142 हैं।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.