कोरोना वैक्सीन के लिए कैसे होगा आपका रजिस्ट्रेशन? टीका लगवाने का पूरा तरीका जानिए

कोरोना वैक्सीन के लिए कैसे होगा आपका रजिस्ट्रेशन? टीका लगवाने का पूरा तरीका जानिए

Ashish Urmaliya | Pratinidhi Manthan

Covid-19 की Vaccine20 भारत सरकार अगले 6 से 9 महीनों में देश के लगभग 30 करोड़ लोगों को टीका लगाने का प्लान सफलता पूर्वक लागू करने में जुटी हुई है. इसी दिशा में काम करते हुए सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना ड्राई रन का आयोजन भी लगातार करवा रही है. (यहां ड्राई रन का मतलब रिहर्सल शब्द से है जिसमें लोगों को एक सांकेतिक टीका लगाया जाता है लेकिन शुरुआत से लेकर अंत तक पूरी प्रक्रिया असली जैसी अपनाई जाती है ताकि जब असली टीका लगाया जाए तो किसी तरह की गलती की कोई गुंजाईश न रह जाए.)

सबसे बड़ी ख़ुशी की बात यह है कि कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccine) का एक लंबा इंतज़ार खत्म हो गया है। देश की सरकार ने कोरोना की दो वैक्सनी- भारत बायोटेक की कोवावैक्सीन (Covaxin)  और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्रेजेनेका की कोविशील्ड (Covishield) को इंमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है (जिस पर कांग्रेस नेता शशि थरूर सवाल उठाया है कि बिना तीरे फेज के ट्रायल के वैक्सीन को मंजूरी कैसे देदी गई?)।  इसके साथ ही मौजूदा वक्त में देश के कई शहरों में वैक्सीन लगाने को लेकर Dry Run (रिहर्सल) भी किया जा रहा है। इन क़वायतों से ये साफ संकेत मिल रहे हैं कि एक दो हफ्ते के भीतर देश भर में असली वैक्सीन लगने का काम शरू हो जाएगा। स्वाभाविक सी बात है इसको लेकर आपके मन में कई तरह के सवाल उठ रहे होंगे कि आखिर आप ये वैक्सनी कैसे लगवा पाएंगे? इस वैक्सीन को लगवाने के लिए कोई चार्ज देना होगा या फिर यह फ्री होगी? और क्या इसके लिए आपको किसी तरह का कोई रजिस्ट्रेशन भी करवाना होगा?

अगले 6 से 8 महीनों के भीतर सरकार देश के लगभग 30 करोड़ लोगों को टीका लगाने का प्लान लगभग तैयार कर चुकी है। इसी को मद्देनज़र रखते हुए  मौजूदा वक्त में देश के विभिन्न हिस्सों में ड्राई रन का आयोजन भी किया जा रहा है। देश के केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) के विशेषज्ञों ने पहले ही दो टीकों को मंजूरी दे दी है और सरकार भी पहले ज\ही यह क्लियर कर चुकी है कि यह टीका एकदम फ्री होगा।

सबसे पहले इनको मिलेगी या लगेगी वैक्सीन-

1. सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन देश के 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स को दी जाएगी. इन वर्कर्स में सरकारी और प्राइवेट दोनों हॉस्पिटल के कर्मचारी सम्मिलित हैं। हालांकि इन हेल्थ वर्कर्स को भी अलग-अलग कैटेगरी में रखा गया है, जैसे- फ्रंट लाइन, ICDS, नर्स, सुपरवाइजर, मेडिकल ऑफिसर, पारामेडिकल स्टाफ, स्पोर्ट स्टाफ और अंत में मेडिकल स्टूडेंट्स।

2.हेल्थ वर्कर्स के बाद नंबर आएगा केंद्र और राज्य सरकार के फ्रंटलाइन कर्मचारियों का।

3. और फिर नंबर लगेगा देश भर के 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों का।

वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करवाना है?

– तो, सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर या ऐपल ऐप स्टोर पर जाइए और CoWIN ऐप को डाउनलोड करिए। 

– वैक्सीन के लिए CoWIN ऐप पर सेल्फ-रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

– रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए 12 फोटो आइडेंटिटी डॉक्यूमेंट्स, जैसे-आधार कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पेंशन डॉक्यूमेंट, पासपोर्ट आदि की ज़रुरत होगी।

-ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद, आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक SMS आएगा, जिसमें आपको वैक्सीनेशन की तारीख, टाइम और जगह की जानकारी जाएगी।

Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com