दीपावली, दौज पर माँ रतनगढ़ में आयोजित होने वाले लख्खी मेले के लिए कलेक्टर द्वारा निरीक्षण, दिये निर्देश

दीपावली, दौज पर माँ रतनगढ़ में आयोजित होने वाले लख्खी मेले के लिए कलेक्टर द्वारा निरीक्षण, दिये निर्देश
दीपावली, दौज पर माँ रतनगढ़ में आयोजित होने वाले लख्खी मेले के लिए कलेक्टर द्वारा निरीक्षण, दिये निर्देश

दीपावली दौज पर माँ रतनगढ़ में आयोजित होने वाले लख्खी मेले के लिए कलेक्टर द्वय ने देखी स्थिति, दिये निर्देश

रिपोर्टर वैभव खरे


दतिया एवं ग्वालियर कलेक्टर की उपस्थिति में विभागीय अधिकारियों की हुई संयुक्त बैठक संपन्न

दतिया। दीपावली की दौज पर माँ रतनगढ़ माता मंदिर पर लगने वाले मेले की व्यवस्थाओं के संबंध में शनिवार को जिला दतिया एवं ग्वालियर के अधिकारियों की संयुक्त बैठक माँ रतनगढ़ माता मंदिर प्रांगण में सम्पन्न हुई।

बैठक में दतिया एवं ग्वालियर जिले के विभिन्न विभागों द्वारा किए जाने वाले कार्यो एवं व्यवस्थाओं पर चर्चा कर अविलम्ब कार्य करने का निर्णय लिया गया।

माँ रतनगढ़ माता मंदिर प्रांगण में आयोजित बैठक में दतिया कलेक्टर संजय कुमार, ग्वालियर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक दतिया अमन सिंह राठौर, ग्वालियर के अपर कलेक्टर आशीष तिवारी, अपर कलेक्टर एचबी शर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दतिया कमलेश भार्गव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दतिया कमल मौर्य, अनुविभागीय दण्ड़ाधिकारी सेवढ़ा अनुराग निगवाल, ग्वालियर के डिप्टी कलेक्टर अशोक सिंह चौहान, डिप्टी कलेक्टर प्रदीप शर्मा सहित ग्वालियर एवं दतिया जिले के संबंधित विभागांे के अधिकारीगण उपस्थित थे।

बैठक में निर्णय लिया गया कि ग्वालियर, देवगढ़ एवं बेहट मार्ग से आने वाले श्रृद्धालुओं के लिए पार्किग व्यवस्था पेयजल, शौचालय, मेडीकल टीम आदि की व्यवस्था जिला प्रशासन ग्वालियर द्वारा कराई जायेगी। जबकि माँ रतनगढ़ मंदिर एवं आसपास की व्यवस्था की जिम्मेदारी जिला प्रशासन दतिया की रहेगी।

बैठक में चर्चा के दौरान दोनो जिलों के कलेक्टरों ने जिलों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि समय बहुत कम है उन्हें तैयारियों एवं व्यवस्थाओं की जो जबावदेही सुनिश्चित की गई है उसे अविलंब शुरू करें।

बैठक में निर्णय लिया गया कि 15 स्थानों पर वाहनों के लिए पार्किग की आवश्यकता होगी। जिसके लिए स्थान चिन्हित कर निजी भूमि होने पर किसानों से चर्चा कर अधिग्रहण की कार्यवाही करें और समतलीकरण का कार्य लोक निर्माण विभाग और संबंधित विभागों से कराया जाए।

बैठक में उक्त जिलों के कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को संयुक्त रूप से निर्देश देते हुए कहा कि उन्हें जो कार्य सौंपे गए है उसे पूरी गंभीरता से लें। प्रशासन एवं पुलिस अधिकारी अन्य विभागों के अधिकारियों से समन्वय बनाकर कार्य करंे।

बैठक में पहुंच मार्ग के जीर्णेद्धार, पार्किग स्थल पर पेयजल व्यवस्था, क्रेन की व्यव्स्था, प्रकाश व्यवस्था आदि पर भी चर्चा की गई।

समाधान

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

सरकारी योजना

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com