ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम यूनिट झाँसी ने सर्दी में ठिठुरते हुए लोगों को वितरित किये कंबल

ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम यूनिट झाँसी ने सर्दी में ठिठुरते हुए लोगों को वितरित किये कंबल
ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम यूनिट झाँसी ने सर्दी में ठिठुरते हुए लोगों को वितरित किये कंबल

ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम यूनिट झाँसी ने सर्दी में ठिठुरते हुए लोगों को वितरित किये कंबल

झाँसी ! ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम यूनिट झाँसी ने अंतर्राष्ट्रीय मानवताधिकार दिवस के अवसर पर रात सर्दी में ठिठुरते सोते हुए लोगों को रेलवे स्टेशन, चित्रा, बस स्टैंड, मेडिकल कॉलेज पर कंबल वितरित किये. सेवकों को जो लोग सुकड़ते, ठिठुरते हुए मिले उनको भी कंबल दिए गए और उनसे कहा गया कि वो शैलटर होम्स की सहायता भी ले सकते हैं|

इस मौके पर मुफ़्ती इमरान नदवी ने बताया कि ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम  एक गैर राजनैतिक और गैर धार्मिक संस्था है. इसमें किसी प्रकार कि कोई राजनैतिक और धार्मिक चर्चा नहीं होती है. सिर्फ और सिर्फ सेवा भाव के साथ बिना किसी भेद भाव के झाँसी में पिछले पांच वर्षों से सेवारत है. उन्होंने कहा कि बेहतर जीवन व्यतीत करने के प्रति जागरूक करना मानवाधिकार दिवस का उद्देश्य है. ऐसे लोग जो परेशान हैं और अपना जीवन यापन नहीं कर पा रहे हैं उनके प्रति हमारा दायित्व है कि हम परेशान हाल लोगों की सहायता कर अपना कर्तव्य निभाएं. इस में ऑल इंडिया पीएम-ए-इंसानियत फोरम अपनी ज़िम्मेदारी समय-समय पर निभाता रहता है और आज भी हमने उन ज़रूरतमंद लोगों की मदद की है जो वास्तव में ज़रूरतमंद हैं. कुछ लोगों को मालूम भी नहीं हुआ कि उनकी किसने मदद की है. उन्होंने ये भी कहा कि फोरम पूरी सर्दी दस से पंद्रह दिवस के अंतर् से ज़रूरतमंदों को कंबल वितरित करेगा. हाजी मज़हर अली ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा १० दिसंबर १९४८ को मानवाधिकार दिवस घोषित करने का उद्देश्य विश्व भर के लोगों को मानवाधिकारों के महत्व के प्रति जागरूक करना और इसके पालन के प्रति सजग रहने का सन्देश देना है. इस मौके पर मुफ़्ती इमरान नदवी, मुफ़्ती अफ्फान असआदी, मज़हर अली, हाजी मुजाहिद, इल्यास अली,भेल, काज़ी तबरेज़, हसीब अंसारी, हाफिज इरफ़ान और हज़रत खान मौजूद रहे.

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com