सोशल मीडिया दिमाग को मजबूत करता है? 

सोशल मीडिया दिमाग को मजबूत करता है? 
सोशल मीडिया दिमाग को मजबूत करता है?

सोशल मीडिया दिमाग को मजबूत करता है? 

Ashish Urmaliya | The CEO Magazine

अगर आप सोशल नेटवर्किंग साइट्स जैसे- फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर आदि का इस्तेमाल करते हैं तो आप अवसाद(Dipression), चिंता (anxiety) जैसी गंभीर मनोवैज्ञानिक संकटों से बचने के लिए 1.63 गुना अधिक सक्षम हो जाते हैं।

जी हां, अब तक आपने यही सुना होगा कि, सोशल मीडिया के अधिक इस्तेमाल से आपके दिमाग पर बुरा प्रभाव पड़ता है। यह आपके दिमाग के अलावा शरीर के अन्य हिस्सों को भी नुकसान पहुंचता है। लेकिन एक नई शोध ने इस परिभाषा को एकदम उलट दिया है और बताया है, कि फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग साइटों के उपयोग के अपने अलग ही फायदे हैं। इन साइट्स का एक सकारात्मक परिणाम वयस्कों के मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कर रहा है।

मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी द्वारा किया गया एक अध्यन सामने आया है जिसके अनुसार, सोशल मीडिया और इंटरनेट का नियमित उपयोग वयस्कों के मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कर रहा है। इसके इस्तेमाल से वयस्कों में पल रही डिप्रेशन और चिंता जैसी गंभीर बीमारियां दूर हो रही हैं।

इस खास अध्ययन में शामिल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर कीथ हेम्पटन का कहना है, कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और संचार प्रौद्योगिकी रिश्तों को बनाये रखने और स्वास्थ्य जानकारी तक पहुंचना आसान बनाते हैं। हेम्पटन ने बताया, कि इस अध्ययन में करीब 13 हजार लोगों को शामिल किया गया था। ये सभी लोग पूर्णतयः परिपक्व थे। इस अध्ययन को पूरा करने के लिए दुनिया के सबसे लम्बे चलने वाले सर्वेक्षण 'पैनल स्टडी ऑफ इनकम डायनेमिक्स' का निर्धारण भी किया गया था।

अध्ययन में उन्होंने पाया कि जिस व्यक्ति ने अभी सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना शुरू किया है, ठीक एक वर्ष बाद उसके अंदर किसी भी तरह की मानसिक बीमारी (जैसे- चिंता, डिप्रेशन आदि) होने की संभावना 63 फीसदी तक कम हो जाती है।

Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com