क्षय रोग की नियमित दवाओं का सेवन करने वाले मरीजों को प्रतिमाह मिलेंगे 500 रूपये

क्षय रोग की नियमित दवाओं का सेवन करने वाले मरीजों को प्रतिमाह मिलेंगे 500 रूपये
क्षय रोग की नियमित दवाओं का सेवन करने वाले मरीजों को प्रतिमाह मिलेंगे 500 रूपये

क्षय रोग की नियमित दवाओं का सेवन करने वाले मरीजों को प्रतिमाह मिलेंगे 500 रूपये

दतिया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरबी कुरेले ने बताया कि क्षय रोग के मरीज जो नियमित रूप से क्षय रोग की दवाओं का सेवन कर रहे है। उन्हें शासन की पोषण आहार योजना के तहत् प्रत्येक टीवी मरीज को प्रतिमाह 500 रूपये की राशि मरीज के बैंक खाते में 6 माह तक जमा कराई जा रही है। इस योजना के तहत् जिले में 2021 में 1608 मरीजों के खाते में 34 लाख 99 हजार 500 रूपये की राशि जमा कराई जा चुकी है।उक्त आशय की जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के तहत् जिले में जन समुदाय में क्षय रोग टीवी के लक्षण एवं बचाव संबंधी आमजन को जानकारी देने हेतु सोमवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में आयोजित मीडिया कार्यशाला में दी।मीडिया कार्यशाला में जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. विशाल वर्मा, विशेषज्ञ डॉ. गौरव गुर्जर, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. हेमंत मंडेलिया, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. डीके सोनी, उपसंचालक जनसम्पर्क अनूप सिंह भारतीय सहित मीडियाकर्मी उपस्थित थे। इस मौके पर ऐसे क्षय रोग रोगी जिन्होंने नियमित रूप से दवाओं का सेवन किया और दवाओं को खाने हेतु मरीज को प्रेरित करने वाले परिजनों को प्रशंसा पत्र प्रदाय कर सम्मानित किया गया है।कार्यशाला को संबोधित करते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरबी कुरेले ने बताया कि टीवी रोग एक संक्रमण बीमारी है जो माईक्रो वैक्टीरियम टयूबरक्यूलेसिस वैक्टीरिया के कारण होती है। इस बीमारी का सबसे अधिक प्रभाव मनुष्य के फेंफेड़ों पर होता है जिसके कारण मनुष्य के अन्य अंग भी प्रभावित होते है।मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकार डॉ. कुरेले ने बताया कि शासकीय चिकित्सालय सेवढ़ा, इन्दरगढ़, भाण्ड़ेर, बसई एवं जिला क्षय केन्द्र दतिया में एक्स-रे एवं सीबीनेट एवं टूनेट मशीन की भी सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2021 में 33 मरीज ड्रग रजिस्टर्ड पाए गए। जिन्हें जिला जिला क्षय केन्द्र में दिया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि वर्ष 2021 में जिले के हाईवरडल ऐरिया में सघन खोज अभियान संचालित किया जा रहा है। जिसके तहत् 96 हजार आबादी का सर्वे का किया जा चुका है। जिसमें 1409 संभावित मरीज पाए गए जिनके जांच करने पर 130 क्षय रोग के मरीज पाए गए जिनका उपचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि किसी व्यक्ति को दो हफ्ते से खांसी, शाम के समय बुखार, लगतार वजन कम होना, रात्रि में पसीना आना, भूख न लगना, खगार के साथ खून आना क्षय रोग के लक्षण हो सकते है। ऐसे व्यक्ति तत्काल चिकित्सालय पहुंचकर अपनी जांच करायें जिससे तत्काल उपचार किया जा सके। उन्होंने कहा कि क्षय रोग के मरीज नियमित रूप से दवायें ले। दवा न लेने पर रोग के जीवाणु पुनः प्रभावी हो सकत है।

15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोर कोरोना से बचाव हेतु वैक्सीनेशन कराएमुख्य चिक्त्सिा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में कोरोना से बचाव हेतु कलेक्टर संजय कुमार के नेतृत्व में टीकाकरण का बेहतर कार्य किया गया है। उन्होंने बताया कि 15 से 18 आयु वर्ग के किशोरों में भी वैक्सीनेशन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि ऐसे व्यक्ति जो फ्रंट लाईन वर्कर है। 60 वर्ष से अधिक आयु के है और कई बीमारियों से ग्रस्ति है उन लोगों को सेेेकेण्ड़ वैक्सीन के 9 माह बाद बूस्टर डोज लगाया जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए मास्क का उपयोग करें, हाथो को सेनेटाईज करें और सोशल डिस्टेसिंग के साथ कोविड गाईड लाईन का पूरा पालन करें।

सरकारी योजना

No stories found.

समाधान

No stories found.

कहानी सफलता की

No stories found.

रोचक जानकारी

No stories found.
Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com