26 रूपए प्रतिदिन का निवेश, 6 बड़े फायदे देती है LIC की ये योजना

26 रूपए प्रतिदिन का निवेश, 6 बड़े फायदे देती है LIC की ये योजना

Ashish Urmaliya | Pratinidhi Manthan

भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने इस योजना की शुरुआत कम कमाई वाले लोगों को तवज्जो देते हुए की है. कम कमाई वाले लोगों लिए भारतीय जीवन बीमा निगम की माइक्रो बचत बीमा योजना (Micro Bachat Insurance Policy) बड़े काम की है. जिन लोगों की कम कमाई है, उनके लिए LIC का माइक्रो इंश्योरेंस प्लान (Micro Insurance Plan) निवेश के मामले में मील का पत्थर साबित हो सकता है क्योंकि यह योजना 6 तरह के बहुमूल्य फायदे देती है. एक तरह से यह योजना प्रोटेक्शन और सेविंग का गठजोड़ है. यह प्लान आकस्मिक मौत होने पर परिवार को फाइनेंशियल सपोर्ट देता है. साथ ही पॉलिसी के मैच्चोयर होने पर एकमुश्त राशि भी प्रदान करता है. तो आइए इस प्लान के बारे में सबकुछ जानते हैं…

लोन की सुविधा मिलेगी

माइक्रो बचत नाम वाली इस रेगुलर प्रीमियम योजना में विभिन्न तर्ज की सुविधाएं हैं. इस बीमा प्लान में आपको 50 हजार रुपये से 2 लाख तक की रकम का बीमा मिलेगा. ये नॉन लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान है. नॉन लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान क्या होता है पहले ये जान लेते हैं-

-यह एक पारंपरिक योजना है, जैसे कि मनी-बैक पॉलिसी या एंडोमेंट पॉलिसी.

-यह शेयर बाजार से लिंक्ड नहीं होतीबी है.

-इसमें एक अच्छी तरह से परिभाषित परिपक्वता राशि और बोनस प्राप्त होता है.

-यह कम जोखिम वाले रिटर्न प्रदान करती है.

माइक्रो बचत बीमा योजना के तहत पॉलिसी में लॉयल्टी (निष्ठा) का फायदा भी मिलेगा. जैसे कि अगर आप ने 3 साल तक लगातार प्रीमियम दिया है तो आपको माइक्रो बचत प्लान के तहत लोन लेने की सुविधा भी मिलेगी.

योजना का फायदा कौन ले सकता है?

यह बीमा 18 से 55 साल तक की उम्र का कोई भी व्यक्ति ले सकता है. इसके तहत किसी भी तरह की मेडिकल जांच की जरूरत नहीं होती है. अगर कोई 3 साल तक लगातार प्रीमियम भरता है और उसके बाद प्रीमियम नहीं भर पाता है तो उसके अगले  6 महीने तक बीमा की सुविधा सुचारु रूप में रहेगी. अगर पॉलिसी होल्डर इस्कान प्रीमियम 5 साल तक लगातार भरता है, तो उसे 2 साल का ऑटो कवर भी मिलेगा. इस प्लान की संख्या 851 है.

कितने साल की होती है पालिसी?

माइक्रो बचत बीमा योजना की पॉलिसी की अवधि 10 से 15 साल की होगी. इस प्लान में सालाना, अर्धवार्षिक, तिमाही और मासिक आधार पर प्रीमियम भरा जा सकता है. इसमें आपको एलआईसी के एक्सीडेंटल राइडर जोड़ने की सुविधा भी मिलती है. हालांकि इसके लिए आपको अलग से प्रीमियम देना होगा.   

28 रुपये/प्रतिदिन में 2 लाख का इंश्योरेंस मिलेगा

यदि इस पॉलिसी तहत 18 साल की उम्र वाला कोई व्यक्ति 15 साल वाला प्लान लेता है तो उसे 51.5 रुपये/प्रति हजार प्रीमियम देना होगा. वहीं 25 साल वाले को इसी अवधि के लिए 51.60 रुपये और 35 साल वाले को 52.20 रुपये प्रीमियम प्रति हजार रुपये देना होगा. वहीँ 10 साल के प्लान में प्रीमियम 85.45 से 91.9 रुपये प्रति हजार रुपए होगा. इसमें 2 फीसदी की छूट भी मिलेगी. इन केस पॉलिसी खरीदने के बाद आपको पसंद नहीं आती है, तो आप 15 दिन के भीतर प्लान को सरेंडर कर सकते हैं. अगर कोई 35 साल का व्यक्ति 1 लाख रुपये के सम अश्योर्ड वाली 15 साल की पॉलिसी लेता है तो उसका सालाना प्रीमियम 5116 रुपये आएगा. चालू बीमा पॉलिसी में 70 फीसदी तक रकम का लोन मिलेगा. वहीं चुकता पॉलिसी में 60 फीसदी तक रकम के लिए लोन की पात्रता प्राप्त होगी.

गणित समझिए

अगर आपने 35 साल की उम्र में अगले 15 सालों के लिए इस पॉलिसी को लिया है, तो आपको  प्रतिवर्ष 52.20 रुपये (1 हजार रुपए बीमित राशि पर) प्रीमियम जमा करना होगा. इसी तरह अगर आप  2 लाख रुपये की बीमित राशि लेते हैं तो आपको प्रतिवर्ष 52.20 x 100 x 2 यानी 10,300 जमा करने होंगे. यानी आपको प्रतिदिन के हिसाब से 28 रुपये और महीने के हिसाब से 840 रुपये का प्रीमियम जमा करना होगा.

प्रीमियम भुगतान पर सेक्शन 80C के तहत इतनी छूट मिलेगी

पॉलिसी के दौरान आपको लोन पर 10.42 फीसदी की दर से ब्याज देना होगा. प्रीमियम के भुगतान के लिए 1 महीने तक की छूट भी रहेगी. इस पॉलिसी के लिए मैच्युरिटी की अधिकतम उम्र 70 साल तक है. यह एक लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी है इसलिए आपको प्रीमियम भुगतान पर सेक्शन 80 सी के तहत इनकम टैक्स की छूट भी मिलेगी. तो अगर आप छोटे निवेश का विचार बना रहे हैं तो इस पॉलिसी के  बारे में भी सोच सकते हैं.

Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com