एडल्ट फिल्म रैकेट को समझिए, जिसमें राज कुंद्रा को धरा गया है

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी: एडल्ट फिल्म रैकेट में पुलिस जांच के दो पहलू थे. पहला- पुलिस अश्लील शो बनाने वालों को पकड़ रही थी और दूसरा- पॉर्न वीडियो क्लिप शेयर करने वालों पर ध्यान केंद्रित कर रही थी। कुंद्रा को हॉट शॉट्स ने लपेट लिया।
एडल्ट फिल्म रैकेट को समझिए, जिसमें राज कुंद्रा को धरा गया है

बॉलीवुड अभिनेत्री व बिज़नेस वुमन शिल्पा शेट्टी के पति व्यवसायी राज कुंद्रा को सोमवार को मुंबई पुलिस ने एक वयस्क फिल्म रैकेट (Adult Film Racket) के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। मामला क्या है, और क्या कुंद्रा इसी तरह के किसी अन्य मामले का सामना कर चुके हैं?

गिरफ्तार क्यों किया गया है ये तो आप सब जानते ही हैं...

इसी साल 4 फरवरी को, मुंबई पुलिस ने जानकारी दी थी कि उन्होंने महिलाओं को पोर्न फिल्मों में कथित रूप से मजबूर करने के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। वे देश के विभिन्न हिस्सों से मुंबई आईं इन महत्वाकांक्षी अभिनेत्रियों से वादा करते थे कि उन्हें वेब सीरीज में काम दिलवाएंगे। हालांकि, शूटिंग के दिन, वे स्क्रिप्ट बदल देते थे और महिलाओं को खुद को न्यूड करने को कहते थे, धमकी देते थे। लड़कियों के मना करने पर उनसे शूटिंग की तैयारियों में हुए खर्चे का बिल भरने को कहा जाता था।

पुलिस ने आगे बताया एक बार फिल्मों की शूटिंग के बाद, आरोपी उन फिल्मों को मुख्यधारा के ओटीटी प्लेटफॉर्म की तर्ज पर सब्सक्रिप्शन की पेशकश करते हुए मोबाइल ऐप पर उपलब्ध कराते थे। इसके बाद वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर विज्ञापन भी डालते थे। चूंकि भारत में पोर्नोग्राफी अवैध है, इसलिए यह भी कानून के खिलाफ था।

इन फिल्मों की शूटिंग कैसे और कहां हुई?

पुलिस के अनुसार, इन फिल्मों की शूटिंग आमतौर पर मुंबई के बाहरी इलाकों में, मड आइलैंड जैसे किराए के बंगले में एक दिनभर की शूटिंग होती थी। पांच से छह लोगों का न्यूनतम स्टाफ रहता होगा जो निर्देशक, संवाद लेखक, स्थान स्काउटर्स और वेब ऐप डेवलपर्स के साथ दोगुना हो जाता होगा। पुलिस ने कहा कि ये ऐप विशेष रूप से लॉकडाउन के दौरान लोकप्रिय हुए, जिनमें से कुछ के पास तो लाखों में ग्राहक थे।

राज कुंद्रा की भूमिका पर पुलिस क्या कहती है?

एडल्ट फिल्म रैकेट में पुलिस जांच के दो पहलू थे। पहला- पुलिस अश्लील शो बनाने वालों को पकड़ रही थी और दूसरा- पॉर्न वीडियो क्लिप शेयर करने वालों पर ध्यान केंद्रित कर रही थी

सबसे पहले पुलिस की जांच के दायरे में यूके(UK) का एक ऐसा प्रोडक्शन हाउस आया, जो इस तरह की सामग्री अपलोड करता पाया गया. पुलिस ने उसके एक्सेक्यूटिव उमेश कामत को गिरफ्तार कर लिया। उसी कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि यह कुंद्रा का कामत और कंपनी से कथित संबंध था जिसने ऐसी अश्लील सामग्री अपलोड की जिससे उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

क्या कुंद्रा के खिलाफ इसी तरह के अन्य मामले लंबित हैं?

कुंद्रा ने पिछले साल महाराष्ट्र साइबर पुलिस द्वारा पिछले साल दर्ज एक मामले के सिलसिले में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन किया था। उस मामले में भी, साइबर पुलिस ने विभिन्न प्लेटफार्मों के खिलाफ FIR दर्ज की थी, जिसके बारे में पुलिस ने कहा था कि वे अश्लील सामग्री (pornographic content) दिखाने में शामिल थे। अदालत अगले सप्ताह तक कुंद्रा की अग्रिम जमानत वाली अर्जी पर भी फैसला ले सकती है।

Pratinidhi Manthan
www.pratinidhimanthan.com